जन्माष्टमी ऑफ़र - 40% तक की छूट रत्न, रुद्राक्ष, यंत्र आदि पर

यह ऑफ़र 26 अगस्त 2016 तक वैध है। इस दौरान आपको एस्ट्रोसेज के प्रोडक्ट्स पर मिलेगी 40 प्रतिशत तक की छूट। आप रत्न, रुद्राक्ष, जड़ी, यन्त्र आदि प्रोडक्ट्स यहाँ बहुत ही कम क़ीमत पर पा सकते हैं; वो भी शुद्धता के प्रमाण-पत्र के साथ।

Janmashtami par paiye 40% tak ka discount sirf AstroSage par.
Read More »

जन्माष्टमी मुहूर्त एवं पूजा विधि

जन्माष्टमी का त्यौहार आज पूरे विश्व में बड़ी धूमधाम से मनाया जाएगा। आज के दिन भागवान कृष्ण का जन्मदिन बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। कई जगहों पर तो इस पावन अवसर पर विभिन्न प्रकार के व्यंजन पकाए जाते हैं। वैसे इस लेख के माध्यम से हम आपको इस पावन पर्व की ज़रूरी जानकारी साझा कर रहे हैं।



जन्माष्टमी 2016 मुहूर्त


  • निशीथ काल पूजा समय: 00:01:12 to 00:45:31 IST (अगस्त 25, 2016)
  • पारणा समय: 20:10:19 IST (अगस्त 25, 2016)

ऊपर दिया गया समय नई दिल्ली, भारत के लिए है। अपने शहर के अनुसार शुभ मुहूर्त जानने के लिए यहाँ क्लिक करें: आपके शहर के अनुसार जन्माष्टमी मुहूर्त

नोट: ऊपर दी गई तारीख़ एवं मुहूर्त स्मार्थों के लिए है, वैष्णवों के लिए नहीं। (जिन लोगों ने वैष्णव सम्प्रदाय से दीक्षा ली होती है वो वैष्णव कहलाते हैं; और बाक़ी सब लोग स्मार्त कहलाते हैं।) वैष्णव सम्प्रदाय यह त्यौहार अगले दिन मनाता है; यानि इस बार 25 अगस्त 2016 को मनाया जाएगा।

जन्माष्टमी पूजा विधि


  1. अगस्त 23, 2016 को हल्का सात्विक भोजन करें। साथ ही जीवनसाथी के साथ नज़दीकी संबंध न बनाएँ और मर्यादा में रहें।
  2. जन्माष्टमी के दिन यानी अगस्त 24, 2016 को प्रात: जल्दी उठकर स्नान के बाद सभी देवी-देवताओं की पूजा करें।
  3. अब उत्तर अथवा पूर्व दिशा में बैठें।
  4. हाथों में गंगाजल, पुष्प और फल लेकर व्रत का संकल्प लें।
  5. इसके पश्चात् काले तिल से मिश्रित जल को अपने ऊपर छिड़कें।
  6. अब लेबर रूम को देवकी के लिए तैयार करें।
  7. इसी जगह बच्चे की पालकी अथवा झूले को लगाएँ और इसके ऊपर जल से भरे हुए कलश को रखें।
  8. अब देवकी, वासुदेव, बलदेव, नंद, यशोदा और लक्ष्मीजी का आदरपूर्वक नाम लेकर पूजा प्रारंभ करें।
  9. मध्य रात्रि के पश्चात जब भगवान श्रीकृष्ण का जन्म हो जाए तब अपना उपवास खोलें।
  10. अगले दिन यानी 25 अगस्त 2016 को देश के कई स्थानों पर दही हाँडी का महोत्सव मनाया जाता है।

नोट: जन्माष्टमी के उपवास में फल, दूध आदि का सेवन कर सकते हैं।

जन्माष्टमी पर आप तुलसी माला पहन कर भगवान् विष्णु को ख़ुश कर सकते हैं; साथ ही इसे उपहार के रूप में अपने प्रियजनों को दे सकते हैं जिससे उन पर भी कृपा बरसे: तुलसी माला अभी ख़रीदें


कृष्ण भगवान् को प्रेम का देवता माना गया है; और शुक्र ग्रह प्रेम का कारक है। इसलिए स्फटिक माला पहनना आज के दिन के लिए बहुत शुभ माना गया है। इससे आपके जीवन में प्रेम बढ़ेगा। अपने रिश्तों को मजबूत करने के लिए आप यह स्फटिक माला अपने प्रियजनों को भेंट कर सकते हैं: स्फटिक माला ख़रीदें अभी


हम आशा करते हैं कि इन जानकारियों के माध्यम से आप इस पावन पर्व को और भी ख़ूबसूरती के साथ मनाने में सफल होंगे।

जन्माष्टमी की मंगलकामनाएँ!
Read More »

साप्ताहिक राशिफल 2016 (अगस्त 22 से 28)

क्या आप जानना चाहते हैं कि आपके लिए कैसा रहेगा यह सप्ताह? होंगे सकारात्मक बदलाव या जीवन में आएंगी परेशानियाँ? कैसी रहेगी आपकी लव लाइफ़, बीवी का मिलेगा प्यार या बढ़ेगी आपसी तकरार? यह सब जानने के लिए पढ़ें हमारा यह साप्ताहिक राशिफल जो आपकी 22 से लेकर 28 अगस्त तक की सारी भविष्यवाणियाँ बताएगा।

Apne is saptah ko shandaar banae ke liye padhe saptahik rashifal.



मेष


इस सप्ताह अपने संगी-साथियों के साथ समय व्यतीत करेंगे। ऐसा भी हो सकता है कि आप अपने से किसी विपरीत लिंग के इंसान के क़रीब जाएँ। अपने बिज़ी शेड्यूल को विराम देने के लिए थोड़ा आराम करें। काम पर ज़्यादा ध्यान देने से आपकी सेहत पर उसका असर दिखेगा। अपने समय और पैसों को यूँ ही बर्बाद न करें। यही आपके लिए हमारा साप्ताहिक संदेश है।

प्रेमफल: सामान्यत: यह सप्ताह प्रेम प्रसंग के मामले में अच्छे परिणाम देगा बस जरूरत रहेगी कि आप अमर्यादित व जिद्दी होने से बचें। हालांकि सप्ताह की शुरुआत थोड़ी सी कमजोर रह सकती है लेकिन मध्य में काफ़ी अच्छे परिणाम मिलने वाले हैं। इस समय प्यार वाली बहुत सारी मीठी मीठी बातें होने वाली हैं। सप्ताहांत में पिकनिक जाएं या फ़िल्म देखें तो बेहतर रहेगा।

उपाय: रात के अंधेरे में यात्रा करने से बचें। 

भाग्यस्टार: 3.5/5



वृषभ


आप इस सप्ताह बड़ी आसानी के साथ सभी परिस्थितियों का सामना करेंगे। कपड़े या इलेक्ट्रॉनिक सामान ख़रीदने पर आपके ख़र्चों में बढ़ोत्तरी होगी। आप इस वीक कहीं वैकेशन पर जाने का मूड बना सकते हैं। हर परिस्थिति में माता-पिता का समर्थन आपके साथ रहेगा। आप इस वीक अपने लाइफ़ पार्टनर के साथ कुछ यादगार लम्हें भी बिताने वाले हैं। 

प्रेमफल: इस सप्ताह आप प्रेम सम्बंधों में अच्छे परिणाम मिलेंगे। विशेषकर यदि आप काफ़ी दिनों से पार्टनर से एकांत में मिलने का प्रयास कर हैं तो आपकी मनोकामना पूर्ण हो सकती है। खासकर सप्ताह की शुरुआत काफ़ी अच्छी रहने वाली है। यदि पार्टनर कहीं दूर रह रहा है तो सप्ताह के मध्य में मुलाकात सम्भावित है। सप्ताहांत तो और भी अनुकूल रहने वाला है।

उपाय: फ़िज़ूलख़र्ची से बाज़ आएँ।

भाग्यस्टार: 4/5


मिथुन


यह सप्ताह थोड़ा आपके लिए कमज़ोर रहेगा। इसमें आप अच्छा कार्य करने में नाकाम रह सकते हैं। ससुराल पक्ष से आपका झगड़ा हो सकता है, हालाँकि इस दौरान आपके माता-पिता एवं दोस्तों का साथ मिलेगा। पार्टनर के साथ भी कुछ मतभेद होने के आसार नज़र आ रहे हैं, लेकिन आप इसे किसी सीमा के बाहर न ले जाएँ। इन सबके बावजूद आपका वीकेंड आरामदायक रहेगा। 

प्रेमफल: इस सप्ताह आपको प्यार में ज्यातर अच्छे परिणाम मिलने की सम्भावना है। पार्टनर के साथ कहीं टूर पर जाना हो या खूब सारी मौज मस्ती करनी हो तो समय अनुकूल है, उसका लाभ उठाएं। शुरुआती दिनों में किसी सहकर्मी का साथ अच्छा लगेगा। किसी को प्रपोज करना हो तो मध्य का समय अच्छा रहेगा। वैसे तो सप्ताहांत भी अच्छा है लेकिन रिस्क लेने से बचना होगा।

उपाय: अहंकार अथवा घमंड का त्याग करें।

भाग्यस्टार: 3/5


कर्क


इस सप्ताह आपके घर में कोई शुभ कार्य हो सकता है। आप ख़ूब मेहनत करेंगे और परिणाम स्वरूप आपकी मेहनत रंग लाएगी। सीनियरों की नज़रों में आप छा जाएंगे। भावनात्मक रूप से कुछ खट्टे-मीठे पल आएंगे, हालाँकि कुछ पलों का अहसास ख़ास होगा जो आपको परिवार के साथ मिलेगा। समस्याएँ आपके जीवन में प्रवेश करेंगी, इसलिए आप अपने पड़ोसियों और अंजान लोगों से दूर रहें। 

प्रेमफल: सामान्यत: सप्ताह प्रेम सम्बंधों के लिए अधिक अनुकूल नहीं है। वाणी पर संयम रखें। किसी भी प्रकार का अशिष्ट या अप्रिय सम्भाषण करने से बचें। सप्ताह के शुरुआती दिनों में मन में आध्यात्मिकता के भाव भी रह सकते हैं। सप्ताह के मध्य में काम व प्यार दोनो के बीच सामंजस्य जरूरी होगा। सप्ताहांत में मिले जुले परिणाम मिलने के योग बन रहे हैं।

उपाय: हनुमान चालीसा का रेगुलर पाठ करें।

भाग्यस्टार: 2.5/5


सिंह


आर्थिक पहलू से यह सप्ताह आपके लिए शानदार है। सर्विसमैन एवं क़ारोबारियों को मुनाफ़ा होगा। आप किसी गहरी चाल में फँस सकते हैं, इसलिए लोन आदि न लें। आपका घरेलू जीवन थोड़ा कमज़ोर नज़र आ रहा है। जीवनसाथी एवं परिवार के लोगों से रिश्तों में खटास आ सकती है। बच्चों की अनावश्यक डिमांड भी आपको परेशान करेगी। 

प्रेमफल: सामान्य तौर पर यह सप्ताह आपके लिए अनुकूल रहेगा लेकिन वासनात्मक विचारों को संयमित रखना जरूरी रहेगा। विशेषकर शुरुआती दिनों में पूरी तरह मर्यादित रहें तो बेहतर रहेगा। सप्ताह के मध्य में काम और प्रेम के बीच सामंजस्य बिठाकर प्रेम का आनंद लें। सप्ताह काफ़ी अच्छा रहेगा। अत: पिछले दिनों की कसर इस समय निकालकर प्रेम का आनंद लें।

उपाय: माँ को कोई उपहार भेंट करें।

भाग्यस्टार: 3.5/5


कन्या


इस सप्ताह आप स्वयं में प्रतिस्पर्धात्मक भाव महसूस करेंगे। विद्यार्थी अपने शिक्षा क्षेत्र में बेहतर प्रयास करेंगे। आप इस किसी प्रतियोगिता में विजयी हो सकते हैं। साथ ही आपको मनवांछित फल की प्राप्ति हो सकती है। आपके लिए यही संदेश है कि आप पूरी तरह अपनी किस्मत पर निर्भर न हों। अच्छे परिणाम लाने के लिए आपको मेहनत करने की आवश्यकता है। सप्ताह को ख़ुशनुमा बनाने के लिए दोस्तों के साथ कहीं बाहर घूमने जाया जा सकता है।

प्रेमफल: यह सप्ताह प्रेम के मामले में मिलाजुला रहने वाला है। हालांकि यदि आप विवाहित हैं या विवाह के प्रयोजन से किसी को चाहते हैं तो सप्ताह पूर्णत: अनुकूल रहने वाला है। इन बातों के लिए सप्ताह की शुरुआत सबसे अधिक अनुकूल रहने वाली है। सप्ताह का मध्य थोड़ा कमजोर है, अत: मर्यादित रहें। सप्ताहांत अनुकूल है, उसमें प्यार का पूर्णानंद मिलने वाला है।

उपाय: सूर्य देवता को जल्दी उठकर जल चढ़ाएँ।


भाग्यस्टार: 3/5


तुला


इस सप्ताह आप अपने दुश्मनों को मात देने में सफल होंगे। आपका जोशीला व साहसी व्यक्तित्व झलकेगा। इसी के साथ समाज में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा। वहीं जो लोग सामाजिक अथवा राजनिति के क्षेत्र में हैं उनको भी उनके कार्यों के लिए सराहा जाएगा। आप इस सप्ताह किसी विदेश यात्रा में भी जाने की योजना बना सकते हैं। शुभ परिणाम की प्राप्ति के लिए समय उचित है। 

प्रेमफल: सामान्य तौर पर यह सप्ताह प्रेम प्रसंग के लिए मिला जुला रहेगा। हालांकि दूर देश में रहने वाले किसी व्यक्ति से प्रेम है तो सप्ताह अनुकूल रहेगा। ऐसा भी हो सकता कि सोशल मीडिया आदि के माध्यम से किसी से लगाव हो सकता है। सप्ताह की शुरुआत में प्यार भरी नोकझोक सम्भावित है। मध्य में थोड़ी सावधानी जरूरी रहेगी। सप्ताहांत अपेक्षाकृत बेहतर परिणाम दे सकता है।

उपाय: किसी महत्वपूर्ण निर्णय लेते समय उसके बारे में विस्तार से सोचें। 

भाग्यस्टार: 3/5


वृश्चिक


यह सप्ताह किसी नए व्यवसाय अथवा जॉब में बदलाव करने के लिए सही है। आप इस वीक अपने घर को पुन: सुसज्जित कर सकते हैं। वहीं लक्जरी आइटम अथवा वाहन की ख़रीदने में आपका पैसा अधिक ख़र्च हो सकता है। आपका जीवनसाथी अपने प्रदर्शन के बलबूते एक अच्छा मुकाम पा सकता है। आप अपने बच्चों पर गर्व महसूस करेंगे। पारिवारिक विवाद से बचें। 

प्रेमफल: सामान्यत: सप्ताह प्रेम प्रसंग के लिए अनुकूल रहने वाला है। यदि आप अभी तक अकेले हैं और पार्टनर की तलाश में हैं तो यह सप्ताह आपकी मदद कर सकता है। यदि आप विद्यार्थी हैं तो सप्ताह की शुरुआत ही किसी सहपाठी से आंखें चार करवा सकती है। सप्ताह के मध्य में रिस्क लेने का मन करेगा, विवाहितों को बेहतर परिणाम मिलेंगे लेकिन सप्ताहांत कमजोर है।

उपाय: अपने ग़ुस्से पर क़ाबू करें।

भाग्यस्टार: 4/5


धनु


आपको रिलेशनशिप में ताज़गी का अहसास होगा। लव पार्टनर के साथ रिश्ते और भी मधुर होंगे। साथ ही इस सप्ताह आपकी संवादशैली में भी सुधार होगा। आसपास के लोग आपसे जुड़ेंगे। आप कोई नया एक्सपेरिमेंट भी कर सकते हैं, लेकिन सावधान रहें अन्यथा आपको नुकसान हो सकता है। 

प्रेमफल: सामान्य तौर यह सप्ताह प्रेम के लिए अनुकूल रहने वाला है लेकिन यदि पार्टनर धर्म कर्म, पा-पुण्य आदि का वाश्ता देकर दूरी बना रहा हो तो थोड़े दिन तक उसे अपने रंग में रंगने के लिए फ़ोर्स न करें। शुरुआती दिनों में किसी बात को लेकर आप थोड़े तनावग्रस्त रह सकते हैं लेकिन मध्य में प्यार का पूरा आनंद मिलेगा। सप्ताहांत भी प्रेम प्रसंग के लिए अनुकूल रहने वाला है।

उपाय: रिस्क लेने से बचें।

भाग्यस्टार: 3.5/5


मकर


आप इस सप्ताह को अपना शानदार सप्ताह भी कह सकते हैं। बिज़नेसमैन और ऑफ़िस कर्मी मुनाफ़ा अथवा प्रमोशन पा सकते हैं। इसके अलावा यह भी उम्मीद है कि आप ज़रुरतमंद लोगों के लिए दान अथवा कुछ कार्य करेंगे। यह सप्ताह किसी नई चीज़ पर निवेश करने एवं ठीक निर्णय लेने के लिए शुभ है। जो लोग मीडिया, ग्लैमर, ज़मीन अथवा प्रॉपर्टी डीलिंग के क्षेत्र से जुड़े हैं उन्हें मुनाफ़ा होगा। 

प्रेमफल: इस सप्ताह प्यार में काफ़ी अच्छे परिणाम मिलने के योग हैं लेकिन आपको सम्भाषण पर विशेष ध्यान देना होगा। शुरुआती दिनों में सम्भव हो तो साथ में कहीं घूमने जाएं या फ़िल्म देखें। सप्ताह में किसी सुरक्षित जगह पर मिल भी सकते हैं लेकिन यदि तड़पन दूर न हो तो सप्ताहांत से मदद मांगे क्योकि उस समय प्रेम में परिपूर्णता का अनुभव हो सकता है।

उपाय: सामाजिक कार्यों में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें। 

भाग्यस्टार: 3/5


कुंभ


इस सप्ताह आपको कोई हेल्थ इश्यू हो सकता है। पेट से संबंधित बीमारी आपको परेशान कर सकती है। बच्चों की चाह की ख़ातिर आप इस वीक कहीं ट्रिप पर भी जाने का प्लान कर सकते हैं। अपने परिवार के सदस्यों का ख़्याल रखें, क्योंकि वे किसी बीमारी की चपेट में आ सकते हैं। इसके अलावा इस वीक में आपके कार्य करने की क्षमता थोड़ी गिरावट हो सकती है, इसलिए सावधान रहें। 

प्रेमफल: यह सप्ताह प्रेम प्रसंग के लिए मिला जुला रह सकता है। प्रेम करें लेकिन ऐसा कोई कदम न उठाएं जिससे आपके कार्य-व्यापार या मान सम्मान पर आंच आने का डर हो। हो सके तो शुरुआती दिनों साथ बैठकर किसी अच्छी जगह पर भोजन करें, मीठी मीठी बातें करें। वहीं मध्य में साथ में मनोरंजन करें। सप्ताहांत रिस्क फ़्री रहेगा अत: टेंसन फ़्री होकर प्रेम को इंज्वाय करें।

उपाय: परिवार में बड़े-बुज़ुर्गों की सेहत का ख़याल रखें। 

भाग्यस्टार: 3/5


मीन


इस सप्ताह आपके किसी पवित्र स्थान पर जाने के योग बन रहे हैं। इसके साथ ही आप अपने रिश्तेदारों से प्यार बटोरेंगे। आसपास के लोग आपके विवेक से प्रभावित होकर आपके साथ वक़्त गुज़ारेंना चाहेंगे। वहीं जीवनसाथी के बारे में आप कुछ ज़्यादा ही सोचेंगे। बच्चे कुछ अनचाही माँग कर सकते हैं, उन्हें इसके बारे में प्यार से समझाएँ और आप जंक फ़ूड से परहेज़ करें। 

प्रेमफल: सामान्यत: सप्ताह प्रेम सम्बंधों के लिए अनुकूलता दर्शा रहा है। शुरुआती दिनो में भावनाओं की अधिकता रह सकती है लेकिन भावनाओं में बह कर बहस करने से बचें। सप्ताह का मध्य अच्छा है। मौका लगे तो साथ में मनोरंजन करें। सप्ताहांत में किसी कारण से थोड़ा बहुत तनाव रह सकता है लेकिन एक दूसरे से अपने दिल की बात शेयर करने दिल को हल्का किया जा सकेगा।

उपाय: आपको किसी तीर्थ यात्रा पर जाएँ।

भाग्यस्टार: 3/5



प्रेमफल हमारे ज्योतिषी पं. हनुमान मिश्रा द्वारा लिखा गया है। इस राशिफल के साथ हम आशा करते हैं कि यह सप्ताह आपके लिए ख़ास हो।
Read More »

कजरी तीज – मुहूर्त व विधि-विधान

आज कजरी तीज है। आज के दिन महिलाएँ प्रेममय वैवाहिक जीवन का उत्सव मनाती हैं। साथ ही इस पर्व का गहरा धार्मिक महत्व भी है। आइए, जानते हैं इस तीज से जुड़ी विशेष बातें...

Kajari Teej is the day to celebrate womanhood and the nuptial bond.



कजरी तीज का मुहूर्त


यूँ तो कजरी तीज का कोई विशेष मुहूर्त नहीं होता है, लेकिन पारंपरिक तौर पर धार्मिक रीति-रिवाज़ों को किसी शुभ मुहूर्त में करने का चलन है। इस दिन के पंचांग के अनुसार निम्न समय इसके लिए उत्तम हैं –

  • 07:31:20 - 09:08:57
  • 09:08:57 - 10:01:30
  • 10:53:13 - 11:44:56
  • 14:20:05 - 15:24:43
  • 18:54:43 - 20:17:06
  • 20:17:06 - 21:39:28

(उपर्युक्त मुहूर्त उत्तम चौघड़िया के आधार पर दिए गए हैं। इनमें से अशुभ समय को हटा दिया गया है।)

अभिजीत मुहूर्त: 11:44:56 से 12:36:39 तक

सुर्योदय: 05:53:39
सूर्यास्त: 18:54:08
चन्द्रोदय: 21:03:00

विशेष: ऊपर दिए सभी मुहूर्त नई दिल्ली, भारत के आधार पर बताए गए हैं। यदि आप अपने शहर के लिए सटीक मुहूर्त जानना चाहते हैं तो कृपया यहाँ क्लिक करें –

कजरी तीज की विशेषता


  1. प्रतिवर्ष भाद्रपद कृष्णपक्ष की तृतीया को यह पर्व धूम-धाम से मनाया जाता है। भारत सहित समूचे दक्षिण एशिया में यह त्यौहार विभिन्न नामों से प्रचलित है, मसलन बड़ी तीज, कजली तीज, सत्व तीज और बूढ़ी तीज आदि।
  2. कजरी तीज का उत्सव
  3. अधिकांश क्षेत्रों में महिलाएँ उपवास रखती हैं, देवी की आराधना करती हैं, झूला झूलती हैं, कजरी गाती हैं, भिन्न-भिन्न पकवान बनाती हैं और शृंगार करती हैं।
  4. कई लोग इस दिन जौ, गेंहूँ, चने आदि को घी, फल-मेवे वग़ैरह में मिलाकर सत्तू बनाते हैं। चन्द्र-दर्शन के बाद इसे खाने की परम्परा है। यही वजह है कि इस पर्व को सतूड़ी तीज या सत्त्व तीज के नाम से भी जाना जाता है।
  5. कुछ जगहों पर इस दिन सिंजारे भी उपहार में दिया जाता है। बहुएँ मिठाई और धन अपनी सास को देती हैं।
  6. इस दिन विशेषतः गौ माता का पूजन भी होता है। गाय को आटे की 7 लोईयों के ऊपर घी और गुड़ रखकर खिलाने के बाद ही भोजन किया जाता है।
  7. उत्तर प्रदेश और बिहार के कुछ क्षेत्रों में इसे कजरी तीज के नाम से जाना जाता है। इस दिन कजरी गीत गाए जाते हैं और उनकी अंताक्षरी भी होती है। नौकाओं पर बैठकर भी कजरी गीत गाए जाते हैं। ये गीत विशेषतः वर्षा ऋतु से जुड़े होते हैं।
  8. प्रायः इस दिन तरह-तरह के पकवान बनाए जाते हैं और झूलों का आनन्द लिया जाता है।

एक वर्ष में चार तीज त्यौहार होते हैं। कजरी तीज के बाद वर्ष में सिर्फ़ एक तीज ही शेष रह जाती है – हरतालिका तीज। 2016 में हरतालिका तीज 4 सितम्बर 2016 को मनायी जाएगी।

हमें उम्मीद है कि यहाँ दी गयी जानकारी आपके लिए उपयोगी सिद्ध होगी। कजरी तीज की हार्दिक शुभकामनाएँ!
Read More »

रक्षा बंधन मुहूर्त एवं शास्त्रीय विधि

इस लेख के ज़रिए जानें रक्षा बंधन से जुड़ी कुछ बहुत ही ख़ास जानकारियाँ। यहाँ हम बताएँगे बिलकुल सटीक मुहूर्त व रस्में। 

Raksha Bandhan ke sahi Muhurat aur shastra vidhi se is tyohar ka bharpoor anand lein.


रक्षा बंधन 2016 मुहूर्त


राखी बाँधने का मुहूर्त: 05:52:03 to 14:59:05
अपराह्ण मुहूर्त: 13:43:08 to 14:59:05

ऊपर दिया गया मुहूर्त नई दिल्ली, भारत के लिए है। अगर आप अपने शहर का मुहूर्त जानना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें: रक्षाबंधन 2016 मुहूर्त आपके शहर के लिए

बहनों के लिए राखी बांधने की शास्त्रीय विधि


  1. प्रातः काल में स्नानादि कर तैयार हो जाएँ।
  2. रोली, चांडाल, चावल, घी का दिया, मिष्ठान और राखी से थाल सजाएँ। (पूजा थाली में अपने अनुसार सामग्री घटा-बढ़ा सकते हैं।)
  3. भाई की आरती उतारें।
  4. भाई के मस्तक पर तिलक करें।
  5. अब निम्न मंत्र के साथ भाई की कलाई पर राखी बाँधें और उनकी लंबी उम्र की कामना करें:

येन बद्धो बली राजा दानवेन्द्रो महाबल:।
तेन त्वामनुबध्नामि रक्षे मा चल मा चल॥

भाईयों के लिए रस्में


जब बहनें अपनी रस्में पूरी कर लें तो भाई को उनसे वादा करना चाहिए कि वे हमेशा उनकी रक्षा करेंगे और एक अच्छा-सा उहार भेंट करना चाहिए।

रक्षा बंधन का ज्योतिषीय महत्त्व


पौराणिक कथाओं के अनुसार असुरों से अपना सब कुछ हारने के बाद, देवलोक के स्वामी इंद्रा गुरु बृहस्पति के पास मदद माँगने पहुँचे। सहायता करने हेतु गुरु ने उनकी कलाई पर रक्षा कवच बाँधा। परिणामस्वरूप इंद्र ने सभी असुरों को पराजित कर दिया और अपना सब कुछ वापिस हासिल कर लिया।

इस कारणवश यह दिन गुरु के लिए भी ख़ास है। गुरु की कृपा पाने हेतु आप गुरु यन्त्र की पूजा कर सकते हैं या 5 मुखी रुद्राक्ष धारण कर सकते हैं।


आशा करते हैं कि आप इस लेख के माध्यम से रक्षाबंधन का दिन बहुत ही ख़ास बना पाएँगे।

रक्षा बंधन की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!
Read More »

जानें भारत का भविष्य इस स्वतंत्रता दिवस पर

स्वतंत्रता दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ! भारत देश बहुत से बदलावों से गुज़र रहा है। आइए देखते हैं कि क्या कहते हैं ज्योतिषी नीरज थपलियाल इस देश के भविष्य के बारे में। 

Janiye bharat ka bhavishya is swantrata diwas par


स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य पर हम आपके लिए लेकर आए हैं भारतवर्ष की कुडंली का लेखा-जोखा ज्योतिषीय दृष्टिकोण से। इस लेख को पढ़ने के बाद आपको भारतवर्ष के अगले एक साल के भविष्य के बारे में कुछ विशेष जानकारियां जानने को मिलेंगी। 



भारतवर्ष का आगामी भविष्यफल

  1. 20 जुलाई से 18 अगस्त तक में पाँच बुधवार व पाँच गुरुवार होने व मंगल-शनि के योग के फलस्वरुप अनाजादि की पैदावार में वृद्धि होगी मगर पाँच बृहस्पतिवार होने से कुछ प्रदेशों में पर्याप्त वर्षा की कमी रहे, तो कहीं अतिवृष्टि से बाढ़ आदि प्राकृतिक प्रकोपों से जन-धन सम्पदा को हानि पहुँचने की संभावना भी रहेगी। कुछ प्रदेशों में सूखा पड़ने का भय भी रहेगा।
  2. 16 अगस्त को सूर्य संक्राति मंगलवार को पड़ने तथा सूर्य पर शनि की दृष्टि के परिणामस्वरुप विभिन्न राजनेताओं में पारस्परिक टकराव, राजनीतिक टकराव और आरोप-प्रत्यारोप की तुच्छ राजनीति सभी सीमाएं लांघ सकती है। कहीं हिंसक घटनाएं बढ़ेंगी तो कहीं प्राकृतिक उपद्रव होगा। 
  3. 19 अगस्त से 16 सितम्बर तक में पाँच शुक्रवार होने से अनाज आदि के मूल्यों में बढ़ोत्तरी होगी। धन का प्रसार बढ़ेगा। सरकार द्वारा प्रदत्त सुख-सुविधाओं में वृद्धि होगी। जनसंख्या में वृद्धि के कारण कुछ गंभीर समस्याएं पैदा हो सकती हैं। 
  4. 17 सितम्बर से 16 अक्टूबर तक में पाँच शनिवार और पाँच रविवार होने से भारत के अनेक प्रदेशों में उपद्रव, साम्प्रदायिक दंगे, हिंसक घटनाएं अग्निकांड की वारदातें अधिक रहेंगी। केन्द्रीय मंत्रिमंडल में बड़े स्तर पर परिवर्तन होने की सम्भावना रहेगी। इस कारण भाजपा या सहयोगी पार्टियों में मतभेद उभर सकते हैं। उपभोग्य वस्तुओं की कीमतों में अत्यधिक तेजी और लोगों में क्लिष्ट-पेचीदा रोगों की उत्पत्ति संभव रहेगी। 
  5. 17 अक्टूबर से 14 नवम्बर तक में पाँच रविवार और पाँच सोमवार होने तथा 1 नवम्बर से शनि-मंगल के बीच दृष्टि सम्बन्ध होने से देश में कहीं अनाज की कमी, अत्यधिक मंहगाई, प्राकृतिक प्रकोपों से जन-धन की हानि व सत्ता परिवर्तन जैसी घटनाएं घटित हो सकती हैं।
  6. 15 नवम्बर से 13 दिसम्बर तक में पाँच मंगलवार होने से समय देश के सामाजिक व राजनीतिक क्षेत्रों के लिए शुभ नहीं है। देश में कहीं आतंकी एवं हिंसक घटनाओं की सम्भावना, राज-सत्ता में परिवर्तन व सांप्रदायिक घटनाओं का भय रहेगा। किसी प्रमुख राजनेता के अपदस्थ होने या आकस्मिक शारीरिक कष्ट होने की भी सम्भावना है। सूर्य-शनि योग के प्रभावस्वरुप उत्तरप्रदेश, बंगाल, जम्मू-कश्मीर, बिहार आदि प्रदेशों में व्यापक हिंसा, अग्निकांड, उपद्रव एवं साम्प्रदायिक विद्वेष की घटनाएं अधिक होंगी। 29 नवम्बर को मंगलवार व अमावस्या के योग से राजनीति में विशेष उथल-पुथल संभव रहेगा। देश में राजनीतिक टकराव तथा राजनेताओं में परस्पर आरोप-प्रत्यारोप होने के संकेत हैं। प्राकृतिक आपदाओं के कारण आवश्यक वस्तुओं में कमी के कारण मूल्यों में तेजी होगी। 
  7. 14 दिसम्बर से 12 जनवरी 2017 ई. तक में पाँच बुधवार एवं पाँच बृहस्पतिवार होने से मिश्रित प्रभाव रहेंगे। पाँच गुरुवार होने तथा गुरु-शुक्र के मध्य दृष्टि सम्बन्ध होने से प्राकृतिक प्रकोप, रेल-वायुयान दुर्घटनाओं से जन व धन-सम्पदा को हानि पहुँचने के योग हैं। भारत के पश्चिमी प्रदेशों व पश्चिमी सीमाओं पर आतंकवादी एवं विस्फोटक घटनाएं घटित होने की संभावनाएं हैं। 28 दिसम्बर से मंगल-शुक्र-केतु का योग होने से राजनीतिक टकराव, बर्फ़बारी से फसलों की हानि संभव है। 
  8. सितम्बर 2015 से सितम्बर 2025 तक स्वतंत्र भारत की कुंडली पर चंद्र की महादशा रहेगी। फरवरी 2017 तक चन्द्रमा की महादशा में मंगल की अंतर्दशा रहेगी। उसके बाद राहु की अंतर्दशा स्वतंत्र भारत की कुंडली पर आएगी। चन्द्रमा कर्क राशि का स्वामी है और कर्क राशि में ही पंचग्रह(पाँच ग्रह एक ही राशि में) का योग बना हुआ है। स्वतंत्र भारत की वर्तमान वर्षकुंडली में चन्द्रमा लग्न(प्रथम भाव) में स्थित है चन्द्रमा की यह महादशा भारत के लिए अप्रत्याशित और अदभुत परिस्थितियां उत्पन्न होने के संकेत हैं। अगस्त 2016 का यह समय सरकार के लिए संकट उत्पन्न करेगा। इस समय विपक्षी दल सरकार का सफलतापूर्वक घेराव करेंगे। सितम्बर 2016 तक का समय राष्ट्ररक्षा के लिए अत्यंत कठिन रहेगा। इस अवधि में भारत की सीमाओं पर आतंकी घुसपैठ बढ़ेंगी। केंद्र सरकार को विशेष सावधानी बरतनी होगी। मुंथेश की छठे भाव दृष्टि और शनि की शुक्र पर दृष्टि यह इशारा कर रही है कि यह वर्ष भारत के लिए अपने शत्रुओं से लोहा लेने के लिए सर्वश्रेष्ठ रहेगा। 
  9. 13 अक्टूबर से आगे, शुक्र-शनि और सूर्य-शनि की विशेष ग्रह स्थिति के परिणामस्वरुप दिसम्बर माह तक भारत में किसी प्रतिष्ठित व्यक्ति के पद खोने को इंगित कर रही है। 28 दिसम्बर 2016 ई. से 19 फरवरी 2017 ई. तक शनि-शुक्र-केतु ये तीनों ग्रह एक साथ रहेंगे। साथ ही 26 जनवरी 2017 ई. को शनि धनु राशि में आकर विकसित देशों व राष्ट्रों तथा मुस्लिम देशों में कहीं प्राकृतिक-प्रकोप से हानि कर सकता है। 


विशेष: शनि-मंगल- ये दोनों शत्रुग्रह 17 सितम्बर 2016 ई. तक वृश्चिक राशि में ही रहेंगे, जिसके कारण चीन-पाक आदि देशों से सीमा-प्रांतों पर सैन्य-बल और उग्रवादी घटनाओं द्वारा कश्मीर में भारी जन-धन हानि होने की संभावना रहेगी। इस अवधि में अफगानिस्तान, इराक, सीरिया और पाकिस्तान आदि देशों में भी भारी अशांति और अराजकता फैलने के आसार हैं। 

ज्योतिषी नीरज थपलियाल
Read More »

साप्ताहिक राशिफल 2016 (अगस्त 15 - 21)

क्या आप आप जानना चाहते है कि आपके लिए कैसा रहेगा यह सप्ताह? होंगे सकारात्मक बदलाव या जीवन में आएंगी परेशानियाँ? कैसी रहेगी आपकी लव लाइफ़, बीवी का मिलेगा प्यार या बढ़ेगी आपसी तकरार? यह सब जानने के लिए पढ़ें हमारा यह साप्ताहिक राशिफल।

Apne is saptah ko shandaar banae ke liye padhe saptahik rashifal.



मेष


यह सप्ताह आपके कठिन परीश्रम पर निर्भर रहेगा। ऐसी उम्मीद है कि कार्यक्षेत्र में आप बहुत सुंदर कार्य करेंगे। सीनियरों की प्रसंशा एवं उनका समर्थन आपको प्राप्त होगा। हाँ, रिश्तेदारी में से कुछ अनचाही ख़बर आपको सुनने को मिल सकती है। घर में भी कुछ अनबन होने के आसार हैं। बेहतर होगा आप अपने ग़ुस्से में क़ाबू रखें। सप्ताह शानदार होने जा रहा है, इसलिए आप अपनी सर्वश्रेष्ठ योजना भी बना सकते हैं। 

प्रेमफल: यह सप्ताह प्रेम सम्बंधों के लिए विशेष अच्छे परिणाम नहीं दे पाएगा। परिणामों को अच्छा बनाने के लिए आपको पुरुषार्थ करना पड़ेगा। फलस्वरूप आपको मिले जुले परिणाम मिल पाएंगे। ऐसी स्थिति में भी शुरुआत सामान्य सी रहेगी। मध्य में आपको अच्छे परिणाम मिलने के योग हैं। सप्ताहांत मिला जुला रहने वाला है।

उपाय: किसी से बेरुख़ी अंदाज़ में न पेश आएँ।


भाग्यस्टार: 3/5


वृषभ


वृषभ, आप में जो भी सिंगल हैं तो उनकी शादी की घंटी इस सप्ताह ज़रुर बढ़ सकती है। इस वीक में आपको प्यार, पारिवारिक सुख और कायक्षेत्र में काम की अधिकता ये तीनों चीज़ें मिलने वाली है। इसके अलावा आप इस बीच किसी नए रिश्तों को जन्म दे सकते हैं। अविवाहिततों को शादी का प्रस्ताव मिल सकता है। आपके लिए यही सलाह है कि आप गाड़ी सुरक्षित तरीक़े से चलाएँ। इलेक्ट्रॉनिक आइटम और आग से दूरी बनाएँ रखें। 

प्रेमफल: इस सप्ताह प्रेम सम्बंधों को लेकर आपको मिले जुले परिणाम मिलने वाले हैं। कुछ घरेलू तनावों के चलते मन विचलित रह सकता है। विशेषकर शुरुआती दिनों में आपको मर्यादापूर्ण तरीक़े से काम लेना होगा। सप्ताह का मध्य अच्छा है, लेकिन कामों की चिंता भी रह सकती है। सप्ताह का अंतिम भाग अनुकूल है, सहकर्मी या सहपाठी से प्रेम होने की स्थिति में और बेहतरी रहेगी।

उपाय: रास्ते में चलते समय बेहद सावधानी के साथ चलें। 

भाग्यस्टार: 3/5


मिथुन


मिथुन के लिए यह सप्ताह शानदार है, क्योंकि उनको मनचाहा परिणाम इस सप्ताह प्राप्त होने वाले है। निश्चित ही आपको अपने कार्य के प्रति एक सच्चे प्रतिस्पर्धी की तरह रहना बनना होगा एवं आपको कार्य करने की क्षमता में भी वृद्धि करने की आवश्यकता होगी। माता-पिता का आशीर्वाद व समर्थन आपके साथ रहेगा। यदि आप लम्बे समय से कहीं बाहर जाने की योजना बना रहे हैं तो यह सप्ताह शानदार है। इस वीक आप कहीं बिज़नेस ट्रिप पर भी जा सकते हैं। लक्ज़री आइटम्स को ख़रीदने पैसों के अधिक ख़र्च होने की संभावना है। 

प्रेमफल: इस सप्ताह सामन्य तौर पर आपको अच्छे परिणाम मिलने वाले हैं। अगर आप किसी को फ़्लर्ट कर रहे हैं तो वह आपको सीरियसली ले सकता है। सप्ताह की शुरुआत काफ़ी अच्छी रह सकती है, लेकिन मध्य में मर्यादित रहना उचित रहेगा। सप्ताहांत के मिले जुले रहने के योग हैं। सहकर्मी से प्रेम होने या काम और प्रेम में सामंजस्य बिठाने की स्थिति में आनंद का प्रतिशत बढ़ेगा।

उपाय: फ़िज़ूलख़र्ची न करें।

भाग्यस्टार: 3.5/5


कर्क


इस सप्ताह अच्छे परिणाम पाने के लिए कठिन परीश्रम बेहद महत्वपूर्ण है। स्वास्थ्य की दृष्टि से आप फ़िट रहेंगे और यदि आप किसी बीमारी से जूझ रहे हैं तो उससे उभरने की भी संभावना है। नौकरी की तलाश करने वालों के लिए शुभ समय है। आपके अच्छे कार्य के लिए लोग आपकी सराहना करेंगे। साथ ही दुश्मनों को मात मिलेगी। अंत में यही कि आपकी सहज़ बुद्धि और त्वरित निर्णय लेने की क्षमता ऐसे ही बनी रहेगी। 

प्रेमफल: सप्ताह प्रेम के मामले में मिले जुले परिणाम दे सकता है। आप ज़रूरत से ज़्यादा भावुक रह सकते हैं। कोशिश करें कि जज़्बाती होकर कुछ अव्यवहारिक न करें। शुरुआत अच्छी रहेगी, लेकिन छोटी-छोटी बातों पर बड़ा विवाद न करें। सप्ताह का मध्य अच्छा है। सप्ताहांत थोड़ा सा कमज़ोर है, अत: मर्यादित रहें और किसी धर्मस्थल पर जाएँ। 

उपाय: हनुमानजी की पूजा करें।

भाग्यस्टार: 3/5


सिंह


सिंह की तबियत इस सप्ताह कुछ गड़बड़ हो सकती है, लेकिन घबराइये मत, ज़्यादा नहीं बिगड़ेगी। अपनी सेहत का ख़्याल रखें। मानसिक शांति की प्राप्ति के लिए अच्छा होगा आप किसी तीर्थ यात्रा पर चले जाएँ। लीगल कामों में किसी भी प्रकार की लेट-लतीफ़ करना ठीक नहीं रहेगा। ऐसा कोई भी काम न करें जिसके लिए आपको कोर्ट-कचहरी के चक्कर काटने पड़ें, अन्यथा आपको कई मुश्किलात का सामना करना पड़ सकता है। संभव हो तो उन्हें कोर्ट के बाहर ही सुलझाने का प्रयास करें।

प्रेमफल: स्वास्थ्य या मूड की ख़राबी के चलते प्यार में मन कम लगेगा अथवा स्वास्थ्य थोड़ा सा प्रतिकूल रह सकता है, लेकिन यदि आपने इन परिस्थितियों पर नियंत्रण पा लिया तो आपको अच्छे परिणाम ज़रूर मिलेंगे। ख़ासकर शुरुआती दिनों में अच्छे परिणाम मिलेंगे। मध्य के भी अच्छे रहने के योग हैं, लेकिन सप्ताहांत कमज़ोर रह सकता है।

उपाय: सड़क पर किसी से बहस करने से बचें।

भाग्यस्टार: 3/5


कन्या


इस सप्ताह आप मीटिंग और सामाजिक कार्यों में व्यस्त रहेंगे। घर पर किसी शुभ कार्य के होने की संभावना है। इस वीक आपकी लाइफ़ में नए दोस्तों का आगमन हो सकता है। इस समय आपका सेंस ऑफ़ ह्यूमर और इंटेलीजेंसी कमाल की होगी। आपके लिए यही सलाह है कि आप किसी से झगड़ा न करें। बस अपने ग़ुस्से पर क़ाबू रखें अन्यथा समाज में आपकी छवि धूमिल हो सकती है। 

प्रेमफल: सामान्य तौर पर सप्ताह दिली मामलों के लिए काफ़ी अनुकूल रहेगा। यदि आप विवाह की बात को आगे बढ़ाना चाह रहे हैं तो और भी अनुकूलता रहने वाला है। एकांत में मिलने की कोशिश में हैं तो शुरुआती दिन मददगार रह सकते हैं। मध्य भी अनुकूल है किसी को प्रपोज़ करने का मूड है तो कर डालिए। सप्ताहांत भी अनुकूल है, हालाँकि प्यार वाली नोक झोक हो सकती है।

उपाय: अपने ग़ुस्से पर क़ाबू रखें और किसी से विवाद न करें।

भाग्यस्टार: 4.5/5


तुला


तुला, यह सप्ताह आपके लिए सामान्य रहने वाला है। दोस्तों के साथ आप कहीं बाहर घूमने की योजना बना सकते हैं। आर्थिक दृष्टि से देखा जाए तो यह सप्ताह आपके लिए चुनौतीपूर्ण लग रहा है। ऐसे में आपके लिए यही मशविरा है कि आप अपने महत्वपूर्ण निर्णयों में विराम लगाएँ। साथ ही अपने व्यवसाय के विस्तार को कुछ समय के लिए रोक दें। 

प्रेमफल: सप्ताह प्रेम प्रसंग के लिए मिला जुला रह सकता है। परिस्थितियाँ कुछ ऐसी रह सकती हैं कि या तो आपका मिलना मिलाना नहीं हो पाएगा अथवा मिलने पर नोक झोक होती रहेगी। सप्ताह की शुरुआत अच्छी है। इस समय कहीं घूमने या साथ में फ़िल्म देखने का मौक़ा मिलेगा। सप्ताह मध्य में कुछ तनाव रह सकता है, लेकिन सप्ताहांत अनुकूल है। 

उपाय: शिवलिंग को जल अर्पण करें।

भाग्यस्टार: 2.5/5



वृश्चिक


वृश्चिक इस सप्ताह आपकी किस्मत बेहद मज़बूत दिख रही है। कार्यक्षेत्र या व्यवसाय क्षेत्र में सफलता आपके क़दम चूमेगी। विद्यार्थियों को मनवांछित फल प्राप्त होगा। प्रतियोगित के लिए यह समय अनुकूल है। माता-पिता से भी भरपूर सहयोग प्राप्त होगा, जो आपके लिए ख़ुशियों के पल लेकर आएगा। इस सप्ताह मेहमान आपका दरवाजा खटखटा सकते हैं, इसलिए उनके साथ समय व्यतीत करें। 

प्रेमफल: यह सप्ताह प्रेम के लिए मिला जुला रहेगा। किसी सहकर्मी से प्रेम भी सम्भावित है, लेकिन इस सप्ताह आपको पूर्णत: मर्यादित रहना होगा, क्योंकि बदनामी का भय रह सकता है। शुरुआती दिनों में भाषा पर संयम रखें। फ़ोन पर भी अपशब्द न बोलें। मध्य में मिल सकते हैं, लेकिन पड़ोसियों से सावधान रहें। सप्ताहांत भी मिला जुला रह सकता है।

उपाय: हनुमान चालीसा का रेगुलर जाप करें।

भाग्यस्टार: 3/5


धनु


इस सप्ताह आपका साहसी व्यक्तित्व झलकेगा। आप किसी भी समस्या का समाधान शीघ्र करेंगें। इसके अलावा आप दुश्मनों को मात देने में सफल होंगे। आपके व्यक्तित्व की चहुँमुखी प्रशंसा होगी। समय से आपके सारे काम पूर्ण हो जाएंगे। अपने भाई-बहन के अलावा दोस्तों का साथ मिलेगा। आप विदेश यात्रा पर भी किसी अन्य मुल्क जा सकते हैं। 

प्रेमफल: सामान्य तौर पर सप्ताह प्रेम प्रसंग के लिए मिला जुला है, लेकिन इस समय वासनात्मक विचारों की अधिकता रह सकती है बेहतर होगा इन पर संयम रखें और सम्बंधों को बेहतर बनाएँ। सप्ताह की शुरुआत में आप काफ़ी भावुक रहेंगे। सप्ताह के मध्य में भी काफी अनुकूलता देखने को मिलेगी। सप्ताहांत मिला जुला रह सकता है। मिलने की कोशिश कामयाब हो सकती है।

उपाय: यात्रा के दौरान अपनी ज़रुरी चीज़ों का अवश्य ध्यान रखें।

भाग्यस्टार:3/5


मकर


आर्थिक दृष्टि से यह सप्ताह आपके अनुकूल नज़र आएगा। आप किसी से फ़ाइनैंशियल मदद भी प्राप्त कर सकते हैं। क़ारोबारियों को व्यवसाय में मुनाफ़ा प्राप्त होगा। उधर, प्रेम जीवन में ज़रुर आपको उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ेगा, लेकिन कुछ देरी के बाद, यह परिस्थिति सामान्य हो जाएगी। फ़ैशन आदि से जुड़ी चीज़ों में पैसा ख़र्च होगा। आपके इस सप्ताह धार्मिक यात्रा के योग बनते दिख रहे हैं। हर एक साथ अच्छा एवं प्रेमपूर्ण व्यवहार अपनाएँ।

प्रेमफल: यह सप्ताह आपको अच्छे परिणाम देगा, लेकिन वासनात्मक विचारों व क्रोध को संयम में रखेंगे तो अच्छा रहेगा। सप्ताह की शुरुआत में पार्टनर से दूर रहना पड़ सकता है। सप्ताह का मध्य अच्छा है। कहीं साथ बैठिए और प्यार भरी बातें करिए। सप्ताहांत मिला जुला है, इसे और बेहतर बनाने के लिए साथ में फ़िल्म देखें या मनोरंजन करें तो अनुकूलता बढ़ेगी। 

उपाय: किसी के साथ रुखा-सूखा व्यवहार न अपनाएँ। 

भाग्यस्टार: 4/5


कुंभ


कार्यक्षेत्र के लिहाज़ से यह सप्ताह कुंभ राशि वालों के लिए अनुकूल है। यदि ऐसा न हो, हमेशा सही दिशा की ओर क़दमों को आगे की ओर बढ़ाएँ। स्वास्थ्य को लेकर बात करें तो आपको पेटदर्द एवं सिरदर्द आदि की शिक़ायत हो सकती है। आपको अधीनस्थ कर्मचारियों से मदद मिलेगी। भविष्य की योजनाओं के लिए धन की बचत करें।

प्रेमफल: यह सप्ताह आपको सामान्यत: अच्छे परिणाम देगा। विवाहित लोगों को और भी अच्छे परिणाम मिलेंगे। विवाह की बात करने के लिए भी समय अनुकूल है। विशेषकर सप्ताह की शुरुआत काफ़ी अच्छी रहने वाली है। रिश्ते काफ़ी भावपूर्ण रह सकते हैं, लेकिन मध्य कमज़ोर है। सप्ताहांत में आप अधिक से अधिक समय अपने लव पार्टनर के साथ बिता सकेंगे।

उपाय: माँ लक्ष्मी जी की पूजा करें।

भाग्यस्टार: 4/5



मीन


इस सप्ताह आप यदि परिवार अथवा दोस्तों के साथ कहीं बाहर घूमने जा रहे हैं तो वहाँ आपको ख़ूब मज़ा आएगा। आपकी रीडिंग एवं राइटिंग स्किल दोनों में सुधार होगा। जो लोग पढ़ाई क्षेत्र में हैं उन्हें अच्छा रिजल्ट मिलेगा। यदि आप किसी प्रतियोगिता में हिस्सा लेने जा रहे हैं तो उसमें विजयी होने के चांस हैं। ससुराल पक्ष से आर्थिक मदद मिल सकती है। घर में सभी रिश्तों का ख़्याल रखें। 

प्रेमफल: सप्ताह सामान्यत: अच्छे परिणाम देगा, लेकिन आपको अपने अभिमान को दरकिनार करना होगा। सप्ताह की शुरुआत काफ़ी अच्छी है, लेकिन आपको काम और प्रेम के बीच सामंजस्य बिठाने की कोशिश ज़रूर करनी होगी। सप्ताह का मध्य भाग थोड़ा सा कमज़ोर रह सकता है। सप्ताह के अंत में आप भावुक रहेगें, आपका पार्टनर आपकी भावनाओं की पूरी कद्र करेगा।

उपाय: कार्य और परिवार के बीच नियंत्रण को बनाए रखें।

भाग्यस्टार: 3.5/5


प्रेमफल हमारे ज्योतिषी पं. हनुमान मिश्रा द्वारा लिखा गया है। इस राशिफल के साथ हम आशा करते हैं कि यह सप्ताह आपके लिए ख़ास हो। 

Read More »