शरद नवरात्र कल से प्रारंभ, जानें घटस्थापना मुहूर्त

जानें घटस्थापना से कैसे करें मां का आह्वान! पढ़ें नवरात्रि में प्रथम दिन का महत्व और मां शैल पुत्री की पूजा का महत्व। साथ ही जानें घटस्थापना के नियम और विधि।

36%
छूट

पूछें के पी सिस्टम के ज्योतिषी से

कीमत : रु 715
सेल कीमत : रु 455
36%
छूट

पूछें लाल किताब के ज्योतिषी से

कीमत : रु 715
सेल कीमत : रु 455
41%
छूट

एस्ट्रोसेज महा कुंडली

कीमत : रु 1105
सेल कीमत : रु 650
12%
छूट

प्रश्न पूछें

कीमत : रु 520
सेल कीमत : रु 455


सुख-समृद्धि के लिए नवरात्र में धारण करें: नवदुर्गा कवच

शरद नवरात्रि 21 सितंबर 2017 से प्रारंभ हो रही है और देवी शक्ति देवी दुर्गा की आराधना का यह महापर्व 29 सितंबर तक हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। नौ दिनों तक चलने वाले इस पावन पर्व का पहला दिन अत्यंत महत्वपूर्ण होता है। क्योंकि प्रथम दिन शुभ मुहूर्त में विधि विधान के साथ घटस्थापना करने के बाद मां शैलपुत्री की आराधना की जाती है। आईये इस लेख के माध्यम से जानते हैं घटस्थापना का शुभ मुहूर्त व पूजा विधि।


घटस्थापना मुहूर्त


दिनाँक
समय
21 सितंबर 2017, गुरुवार
06:08:40 से 08:09:45 तक

नोट- उपरोक्त मुहूर्त नई दिल्ली (भारत) के लिए है।

जानें अपने शहर के अनुसार: घटस्थापना का शुभ मुहूर्त

कलश स्थापना का महत्व


नवरात्रि में घटस्थापना/कलश स्थापना का विशेष महत्व है। क्योंकि यह नवरात्रि का पहला दिन है और घटस्थापना के बाद ही देवी दुर्गा के इस पर्व की विधिवत शुरुआत होती है। नवरात्र में (चैत्र व शरद) में प्रतिपदा अथवा प्रथमा तिथि में शुभ मुहूर्त में पूरे विधि विधान के साथ कलश स्थापना की जाती है। हिंदू धार्मिक ग्रंथों के अनुसार कलश को भगवान गणेश की संज्ञा दी गई है। इस दिन सर्वप्रथम गणेश जी की वंदना कर समस्त देवी-देवताओं का आह्वान किया जाता है। 


नवरात्र के प्रथम दिन माँ शैलपुत्री की आराधना


नवरात्रि में देवी दुर्गा के नौ अलग-अलग रूपों की पूजा होती है। इसी कड़ी में प्रथम दिन मां शैलपुत्री की उपासना की जाती है। संस्कृत में शैलपुत्री का अर्थ है ‘’पर्वत की बेटी’’। पौराणिक मान्यता के अनुसार पर्वत राज हिमालय की पुत्री होने के कारण ही इनका नाम शैलपुत्री पड़ा। इनका वाहन वृषभ है, इसलिए माँ शैलपुत्री को वृषारूढ़ा नाम से भी जाना जाता है। इनके दाहिने हाथ में त्रिशूल और बाएँ हाथ में कमल का पुष्प सुशोभित है। माँ के इस प्रथम रूप को सती नाम से भी पुकारा जाता है।


एस्ट्रोसेज की ओर से सभी पाठकों को नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं! हम आशा करते हैं कि देवी दुर्गा का आशीर्वाद आप पर सदैव बना रहे।
Read More »

साप्ताहिक राशिफल, 18 से 24 सितंबर 2017

इस सप्ताह मिलेगी अपार सफलता, बन रहे हैं ऐसे योग! पढ़ें साप्ताहिक राशिफल और जानें इस सप्ताह क्या होने वाला है खास? नौकरी, व्यापार और पारिवारिक जीवन के लिहाज से कैसा रहेगा यह सप्ताह?

36%
छूट

पूछें के पी सिस्टम के ज्योतिषी से

कीमत : रु 715
सेल कीमत : रु 455
36%
छूट

पूछें लाल किताब के ज्योतिषी से

कीमत : रु 715
सेल कीमत : रु 455
41%
छूट

एस्ट्रोसेज महा कुंडली

कीमत : रु 1105
सेल कीमत : रु 650
12%
छूट

प्रश्न पूछें

कीमत : रु 520
सेल कीमत : रु 455

यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। चंद्र राशि कैल्कुलेटर से जानें अपनी चंद्र राशि।




मेष


इस सप्ताह आपको आशा के अनुरूप परिणाम प्राप्त नहीं होंगे। हालांंकि आपको आर्थिक लाभ होने के योग हैं। कार्यक्षेत्र में उदासीनता का भाव पैदा होगा। आपका कार्य में मन नहीं लगेगा। आप अपनी नौकरी को बदलने का भी विचार कर सकते हैं। माता जी के सेहत में गिरावट आने की संभावना है इसलिए उनकी सेहत की देखभाल करें। छात्रों का पढ़ाई में मन कम लगेगा। काम में व्यस्त होने के कारण आप अपनी फ़ैमिली को पर्याप्त समय नहीं दे पाएंगे। 

प्रेमफल: प्रेम के मामलों मे आपको मिलेजुले परिणाम मिलेंगे। सप्ताह की शुरुआत अच्छी है और मध्य थोड़ा कमज़ोर है जबकि वीकेंड प्यार के लिए शानदार रहेगा। इस दौरान आपको लव पार्टनर के साथ रोमांस करने का भरपूर मौक़ा मिलेगा। हालाँकि किसी बात को लेकर दोनों के बीच तकरार भी संभव है। वैवाहिक जीवन के लिए सप्ताह बढ़िया रहने के संकेत दे रहा है। इसमें वैवाहिक रिश्ता और भी मजबूत होगा। जीवनसाथी को बड़ी उपलब्धि मिलने की संभावना है। 

भाग्यस्टार: 3.5/5

उपाय: बृहस्पति बीज मंत्र का जाप करें।


वृषभ


आपके मन में विचारों का द्वंद दिखाई देगा। पारिवारिक मुद्दों को लेकर आपके विचारों में विरोधाभास रह सकता है। परिवार में किसी तरह का झगड़ा संभव है। माता जी उर्जावान महसूस करेंगी परंतु फिर भी उनकी सेहत में गिरावट आ सकती है। सफलता के लिए अपना ध्यान केवल कार्य में ही लगाएँ। ऑफ़िस में आपकी पदोन्नति संभव है। छात्र पढ़ाई में अधिक मेहनत करेंगे।

प्रेमफल: प्यार के लिए सप्ताह की शुरुआत अच्छी रहेगी, मध्य सामान्य है और सप्ताहांत फिर से अच्छे होने का वादा कर रहा है। अहंकार को प्यार के बीच में न लाएं और एक-दूसरे से अपनी भावनाओं को साझा करें। यदि आप शादीशुदा हैं तो यह सप्ताह आपके लिए चुनौतीपूर्ण रह सकता है।

भाग्यस्टार: 3.5/5

उपाय: मां दुर्गा की प्रतिमा के सामने शुद्ध घी का दीया जलाएं।


मिथुन


आप दोस्तों, रिश्तेदारों एवं अपने परिजनों के साथ सप्ताह का आनंद लेंगे। पड़ोसियों का सहयोग प्राप्त होगा और ऑफ़िस में सहकर्मियों का साथ मिलेगा। अच्छा अवसर मिलने पर आप अपनी जॉब चेंज कर सकते हैं। पिताजी एवं भाई-बहनों का स्वास्थ्य कमज़ोर रह सकता है। छोटी दूरी की यात्राएँ होने के योग हैं। छात्र पढ़ाई में अच्छी मेहनत करेंगे। बच्चे समय का आनंद लेंगे। आप अपने लक्ष्य के प्रति संकल्पबद्ध रहेंगे और आपकी संवाद शैली अच्छी रहेगी।

प्रेमफल: इस सप्ताह किसी के साथ नई रिलेशनशिप की शुरुआत हो सकती है। एक से अधिक लोगों पर आपका दिल आ सकता है, परंतु आपको इससे बचना होगा। सप्ताह की शुरुआत अच्छी है और मध्य सामान्य जबकि सप्ताह का अंत बहुत ही बढ़िया रहेगा। शादीशुदा जातकों के लिए सप्ताह अनुकूल रहने के संकेत दे रहा है। जीवनसाथी को किसी प्रकार की कामयाबी हासिल हो सकती है।

भाग्यस्टार: 4/5

उपाय: बुध बीज मंत्र का जाप करें।


कर्क


आप अपने जीवन को लेकर थोड़े निराश रहेंगे। इस समय आपके मन में नकारात्मक विचार आ सकते हैं। क्रोध में आकर अपशब्दों का प्रयोग कर सकते हैं। आपको स्वास्थ्य संबंधी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है इसलिए अपनी सेहत का ध्यान रखें। घर में शांति का वातावरण देखने को मिलेगा। छात्र पढ़ाई में ख़ूब मेहनत करेंगे जिसका उन्हें बढ़िया परिणाम मिलेगा। कार्यस्थल पर आपको सफलता मिलेगी और प्रॉपर्टी के द्वारा आर्थिक लाभ मिलने की प्रबल संभावना है। 

प्रेमफल: प्रेम के मामलों के लिए सप्ताह सामान्य है। सप्ताह की शुरूआत और मध्य भाग कुछ ख़ास नहीं रहेगा परंतु सप्ताह के अंत में आपको अच्छे परिणाम देखने को मिलेंगे। दोनों के बीच किसी बात पर तकरार संभव है। यदि किसी प्रकार की ग़लतफहमी हो तो उसे मिल बैठकर दूर करें। जीवनसाथी से बहस न करें और किसी मसले को प्यार से सुलझाएं।

भाग्यस्टार: 3.5/5

उपाय: भगवान शिव की पूजा करें और दूध से उनका अभिषेक करें।


सिंह


इस सप्ताह आपके मन में अस्थिरता देखने को मिलेगी। कभी आपको अधिक ग़ुस्सा आएगा तो कभी आप प्यार से बात करेंगे। आर्थिक क्षेत्र में लाभ मिलेगा और ख़र्च में भी वृद्धि देखने को मिल सकती है। घर में अशांति का माहौल रह सकता है। आपको भाई-बहनों का सहयोग प्राप्त होगा। अपनी सेहत का ख्याल रखें। आप लंबी दूरी की यात्रा पर जा सकते हैं। विदेशगमन के भी योग हैं। कार्यक्षेत्र के लिए सप्ताह बढ़िया रहेगा।

प्रेमफल: प्यार के मामलों के लिए यह सप्ताह ख़ास रहेगा। सप्ताह की शुरुआत बेहतरीन रहेगी। हालाँकि मन में प्यार को लेकर भ्रम की स्थिति भी रह सकती है। किसी के साथ नया रिश्ता कायम हो सकता है। मध्य को छोड़कर सप्ताह का अंत अच्छा रहेगा। वैवाहिक जीवन में चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। जीवनसाथी की सेहत गिर सकती है।

भाग्यस्टार: 4/5

उपाय: बरगद के पेड़ की पूजा करें।


कन्या


आपके ख़र्चों में वृद्धि होगी। विदेश जाने के भी योग हैं। घर में शांति का वातावरण रहेगा और आपकी कमाई भी बढ़िया रहेगी। बच्चों की सेहत कमज़ोर रह सकती है और छात्रों को पढ़ाई में दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है। रहस्यमयी विषयों को जानने में आपकी रुचि बढ़ेगी। आप अपने काम को लेकर किसी यात्रा पर जा सकते हैं। अहंकार से दूरी बनाए रखें।

प्रेमफल: प्यार के लिए सप्ताह कम अनुकूल है। इस समय प्यार को लेकर आपने मन में कोई शंका रह सकती है। पार्टनर से ब्रेकअप के संकेत हैं। सप्ताह की शुरुआत सामान्य है परंतु अंत बेहतर रहेगा। शादीशुदा जीवन में मिश्रित परिणाम मिलेंगे। जीवनसाथी की सेहत में गिरावट आ सकती है। वहीं दूसरी ओर उनकी मदद से आपको किसी प्रकार का लाभ मिलेगा।

भाग्यस्टार: 3.5/5

उपाय: श्री विष्णु सहस्रनाम स्तोत्र का पाठ करें।


तुला


आपको विभिन्न क्षेत्रों से लाभ मिलेगा और आय के स्रोतों में वृद्धि होगी। किसी क्षेत्र में कामयाबी हासिल करने के योग बन रहे हैं। कार्यक्षेत्र में संभलकर रहें, आपके ख़िलाफ़ कोई साज़िश रच सकता है। घर में माता जी की सेहत बिगड़ सकती है। छात्रों को परीक्षा में अच्छे परिणाम मिलेंगे। भाई-बहनों का भी सहयोग प्राप्त होगा। आपकी धार्मिक कार्यों में रुचि बढ़ेगी।

प्रेमफल: प्यार के मामलों के लिए यह मिलाजुला सप्ताह रहेगा। सप्ताह की शुरुआत तो अच्छी है लेकिन मध्य सामान्य रहेगा और यदि वीकेंड की बात करें तो ये आपके लिए लाजवाब रहने वाला है। लव पार्टनर के साथ आप समय व्यतीत करेंगे। सिनेमा या किसी ट्रिप का आनंद लिया जा सकता है। इस समय अपने रिश्ते को और भी मजबूत बनाएं।

भाग्यस्टार: 4/5

उपाय: मां दुर्गा की पूजा करें।


ऑनलाइन सॉफ्टवेयर से मुफ्त जन्म कुंडली प्राप्त करें।

वृश्चिक


कार्यक्षेत्र में अपने काम पर ही ध्यान दें। आपके पारिवारिक जीवन में समस्याएं आ सकती है। माता जी की सेहत भी नाज़ुक रहेगी। आपको आर्थिक लाभ मिलने के योग हैं। सरकार के द्वारा भी आपको किसी तरह का फायदा हो सकता है। धार्मिक क्रियाओं में आपकी रुचि बढ़ेगी और इस पर आपका ख़र्चा भी बढ़ सकता है। भाई-बहनों का स्वास्थ्य कमज़ोर रहेगा और बच्चे स्वभाव से जिद्दी हो सकते हैं।

प्रेमफल: प्रेम जीवन के लिए यह सप्ताह कम अनुकूल है। सप्ताह की शुरुआत अच्छी नहीं है। मध्य और सप्ताहांत भी सामान्य रहने के संकेत दे रहे हैं। इस दौरान धैर्य का परिचय दें और रिश्ते की डोर को मजबूत बनाने का प्रयत्न करें। प्रियतम पर ग़ुस्सा न करें वरना स्थिति और ख़राब हो सकती है। जीवनसाथी थोड़ा असहज महसूस कर सकते हैं।

भाग्यस्टार: 3.5/5

उपाय: प्रतिदिन सूर्य देव की उपासना करें और श्वेतार्क के वृक्ष पर शुद्ध जल चढ़ाएं।


धनु


इस सप्ताह आप अपने बुद्धि विवेक से अधिक लाभ कमाएंगे। बुद्धिजीवियों और समाज के प्रतिष्ठित लोगों से आपकी मुलाकात होगी। कार्यक्षेत्र में आपकी पदोन्नति होने की प्रबल संभावना है। हालाँकि घर का वातावरण सामान्य रहेगा। कुछ छोटे-मोटे विवाद सामने आ सकते हैं। वाहन चलाते समय सावधानी अवश्य बरतें। पिताजी की सेहत में गिरावट आ सकती है। बच्चों को इस सप्ताह आनंद आएगा और छात्र परीक्षा के लिए जमकर तैयारी करेंगे।

प्रेमफल: सप्ताह की शुरुआत अच्छी है, मध्य सामान्य है और साप्ताहांत बहुत बढ़िया रहने के संकेत दे रहा है। इस समय आपकी रिलेशनशिप और भी मजबूत होगी। हो सकता है कि आप इस रिश्ते को शादी में बदल दें। शादीशुदा जीवन के लिए सप्ताह उत्तम रहने के संकेत दे रहा है। समाज में जीवनसाथी का मान-सम्मान बढ़ेगा। 

भाग्यस्टार: 4/5

उपाय: भगवान शिव की आराधना करें।


मकर


आपको तनाव की शिकायत रह सकती है। करियर में उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। बिजनेस पार्टनरशिप में भी बाधाएं आ सकती हैं। आर्थिक क्षेत्र में लाभ तो है परंतु हानि का भी भय बना हुआ है। आपका कोई पुराना राज़ खुल सकता है। पिताजी की सेहत में उतार-चढ़ाव देखने को मिलेगी। लंबी दूरी की यात्रा आपके योग में है। आपका टैलेंट आपकी आय का ज़रिया बन सकता है। अपने आपको विवादों से दूर रखें। आप अपना पुराना उधार चुकाएंगे। 

प्रेमफल: यह सप्ताह आपके लिए मिला जुला रहेगा। प्यार के मामलों के लिए सप्ताह की शुरुआत अच्छी है। मध्य भाग थोड़ा कमज़ोर है इसलिए अपनी भावनाओं पर काबू रखें। वहीं सप्ताहांत फिर से अच्छा रहने का वादा कर रहा है। पार्टनर के साथ प्यार करने का भरपूर मौक़ा मिलेगा। किसी ग़लतफ़हमी के कारण मामला बिगड़ सकता है। जीवनसाथी से किसी प्रकार की बहस न करें। 

भाग्यस्टार: 3.5/5

उपाय: प्रतिदिन भगवान शिव की पूजा करें और उन्हें गेहूँ अर्पित करें।


कुंभ


आपको कार्य में सफलता मिलेगी और आपकी आमदनी में वृद्धि होगी। बिजनेस पार्टनरशिप में विवाद हो सकता है। माता जी का स्वास्थ्य कमजोर रह सकता है। कार्यक्षेत्र में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा और आपका प्रमोशन भी संभव है। बच्चे ऊर्जावान रहेंगे, परंतु उनकी सेहत का ख़्याल रखना होगा। छात्र पढ़ाई में अच्छा प्रदर्शन करेंगे। आप अपने विरोधियों पर हावी रहेंगे।

प्रेमफल: प्रेम जीवन के लिए सप्ताह मिला-जुला रहेगा। सप्ताह की शुरुआत कमज़ोर है और मध्य सामान्य जबकि वीकेंड बढ़िया रहने के शुभ संकेत दे रहा है। अपने प्रियतम के साथ आप किसी लॉन्ग ड्राइव पर जा सकते हैं। इससे आपका रिश्ता और भी मजबूत होगा। मैरिड लाइफ में जीवनसाथी के साथ किसी प्रकार की अनबन हो सकती है। उनकी सेहत में भी गिरावट आ सकती है।

भाग्यस्टार: 3/5

उपाय: अपने जेब में पीला रुमाल रखें।


मीन


आपको मानसिक तनाव और ख़र्च में वृद्धि जैसी समस्याओं से गुजरना पड़ सकता है। हालाँकि विदेशी संबंधों से लाभ मिलने के योग हैं। आध्यात्म की ओर आपका रुझान बढ़ेगा। प्रॉपर्टी को लेकर विवाद भी सामने आ सकता है। माता जी की सेहत का ख़्याल रखें। कठिन परिश्रम के बाद आपको अपने कार्य में सफलता मिलेगी। बच्चों के स्वास्थ्य में कमी आ सकती है। उनके स्वास्थ्य की देखभाल करें। यदि आवश्यक नहीं है तो किसी से पैसे उधार न लें। 

प्रेमफल: प्रेम के मामलों के लिए सप्ताह की शुरुआत थोड़ी धीमी रहेगी जबकि मध्य अच्छा होने के संकेत दे रहा है। वहीं सप्ताहांत सामान्य रहेगा। किसी प्रकार की ग़लतफहमी हो सकती है जो आपके बीच विवाद का कारण बन सकती है। अपने प्रियतम पर शक न करें। वैवाहिक जीवन में अंहकार का टकराव हो सकता है। जीवनसाथी की सेहत में भी कमी आ सकती है।

भाग्यस्टार: 3/5

उपाय: हनुमान जी की पूजा करें और उन्हें सिंदूर चढ़ाएँ।

Read More »

सूर्य का राशि परिवर्तन, पढ़ें ज्योतिषीय प्रभाव

सूर्य के महागमन से बन रहे हैं धन लाभ के योग! पढ़ें सूर्य के गोचर का राशिफल और जानें आपके जीवन पर क्या होगा इसका असर?

36%
छूट

पूछें के पी सिस्टम के ज्योतिषी से

कीमत : रु 715
सेल कीमत : रु 455
36%
छूट

पूछें लाल किताब के ज्योतिषी से

कीमत : रु 715
सेल कीमत : रु 455
41%
छूट

एस्ट्रोसेज महा कुंडली

कीमत : रु 1105
सेल कीमत : रु 650
12%
छूट

प्रश्न पूछें

कीमत : रु 520
सेल कीमत : रु 455

वैदिक ज्योतिष में सूर्य को आत्मा और पिता का कारक कहा गया है। सूर्य के प्रभाव से यश,कीर्ति और सम्मान की प्राप्ति होती है। कुंडली में सूर्य की शुभ स्थिति से नौकरी और व्यवसाय में उच्च पद प्राप्त होता है। इसलिए सूर्य का गोचर हर व्यक्ति के जीवन को प्रभावित करता है। 

17 सितंबर 2017 को सूर्य कन्या राशि में गोचर करेगा और 17 अक्टूबर 2017 तक इसी राशि में स्थित रहेगा। सूर्य के इस गोचर का प्रभाव सभी 12 राशियों पर होगा। आइये जानते हैं आपकी राशि पर क्या होगा सूर्य के इस गोचर का असर?


यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। जानें अपनी चंद्र राशि: चंद्र राशि कैल्कुलेटर

मेष: इस दौरान आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे।कार्य क्षेत्र में आप अच्छा प्रदर्शन करेंगे और सीनियर्स भी आपके काम से ख़ुश रहेंगे आगे पढ़ें...

निःशुल्क ज्योतिष सॉफ्टवेयर से बनाएँ: ऑनलाइन कुंडली

वृषभ: कार्य क्षेत्र में सीनियर्स के साथ आपके रिश्ते बिगड़ सकते हैं। समाज में भी कुछ लोगों से आपका विवाद संभव है। आगे पढ़ें...

भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया के मैच की भविष्यवाणी पढ़े  

मिथुन: वैवाहिक जीवन में भी चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। जीवनसाथी को कार्य क्षेत्र में गोचर का लाभ मिलेगा। आगे पढ़ें...

नौकरी में तरक्की नहीं मिलने से हैं परेशान, अवश्य करें: नौकरी में प्रमोशन के उपाय

कर्क: स्वास्थ्य की दृष्टि से गोचर आपको सकारात्मक परिणाम देने वाला है। भौतिक सुख सुविधाओं का आप आनंद लेंगे। आगे पढ़ें...

सिंह: गोचर की अवधि में आपको शारीरिक और मानसिक दोनों प्रकार की चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। आगे पढ़ें...

कन्या: विदेशी संबंधों से लाभ प्राप्त होने की संभावना है। तनाव और अहंकार दोनों आपके लिए घातक हो सकते हैं। आगे पढ़ें...

घर बैठे पाएं अपनी महाकुंडली: एस्ट्रोसेज महाकुंडली

तुला: इस दौरान आप विदेश यात्रा पर जा सकते हैं। काम के चलते घर से दूर भी रहना पड़ सकता है। विरोधियों से सावधान रहें। आगे पढ़ें...

वृश्चिक: विभिन्न स्रोतों से आपको लाभ मिलने के योग हैं। इस दौरान आपकी आय में वृद्धि होगी और शत्रुओं पर विजय मिलेगी। आगे पढ़ें...

सूर्य की शांति के लिए करें: सूर्य ग्रह के उपाय

धनु: नौकरी में आपकी पदोन्नति और आय में वृद्धि हो सकती है। सरकार की ओर से भी लाभ मिलने के शुभ संकेत हैं। आर्थिक दृष्टि से गोचर शुभ संकेत दे रहा है। आगे पढ़ें...

मकर: इस अवधि में आपको उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। पैसों की लेन-देन में सावधानी बरतें, वरना धन हानि हो सकती है। आगे पढ़ें...

कुंभ: आपके पिछले कर्मों का फल आपको इस गोचर के दौरान मिलने वाला है। जीवनसाथी को स्वास्थ्य संबंधी परेशानी से गुज़रना पड़ सकता है। आगे पढ़ें…

जानें करियर के किस क्षेत्र में मिलेगी आपको तरक्की: करियर और व्यवसाय रिपोर्ट

मीन: बिज़नेस पार्टनर के साथ किसी तरह का विवाद हो सकता है। यदि आप नौकरी कर रहे हैं तो आपको कोई शुभ समाचार प्राप्त हो सकता है। आगे पढ़ें…
Read More »

शुक्र का सिंह राशि में गोचर, जानें प्रभाव

जब सूर्य की राशि में जाएगा शुक्र,तो बनेंगे अद्भूत योग! पढ़ें शुक्र का सिंह राशि में होने वाले गोचर का राशिफल और जानें आपके जीवन पर क्या होगा इसका असर?

36%
छूट

पूछें के पी सिस्टम के ज्योतिषी से

कीमत : रु 715
सेल कीमत : रु 455
36%
छूट

पूछें लाल किताब के ज्योतिषी से

कीमत : रु 715
सेल कीमत : रु 455
41%
छूट

एस्ट्रोसेज महा कुंडली

कीमत : रु 1105
सेल कीमत : रु 650
12%
छूट

प्रश्न पूछें

कीमत : रु 520
सेल कीमत : रु 455

सांसारिक और वैवाहिक सुख का कारक शुक्र ग्रह 15 सितंबर 2017 को सिंह राशि में गोचर कर रहा है। स्त्री प्रधान कहे जाने वाले शुक्र ग्रह को ज्योतिष शास्त्र में भोग विलास व ऐश्वर्य के लिए जाना जाता है। शुक्र को प्रेम और सौंदर्य आदि का प्रतीक माना गया है। शुक्र की शुभ स्थिति भौतिक सुख-सुविधा और दाम्पत्य जीवन में उन्नति प्रदान करती है। इसलिए शुक्र का यह गोचर आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण रहने वाला है। आईये जानते हैं इस शुक्र के राशि परिवर्तन का आपकी राशि पर क्या असर होगा?

यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। जानें अपनी चंद्र राशि: चंद्र राशि कैल्कुलेटर 

मेष- ये गोचर आपके लिए मिला-जुला रहेगा। आर्थिक स्थिति एवं निजी संबंधों में मज़बूती आएगी लेकिन अपनों की सेहत में गिरावट देखने को मिल सकती है। आगे पढ़ें…


वृषभ- शुक्र का ये गोचर आपके लिए हर लिहाज़ से लाभकारी है। गुस्से पर अपना काबू पाएं और बहस से बचें अन्यथा ये आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है। आगे पढ़ें…

शुक्र की शांति के लिए करें: शुक्र ग्रह के उपाय

मिथुन- शुक्र के आगमन से आपके अंदर कोई कलात्मक गुण उभर कर आएगा। इसके साथ ही इस गोचर काल में आपका सामाजिक स्तर भी ऊंचा होगा। आगे पढ़ें…

कर्क- विलासिता का जीवन में प्रवेश होगा। वित्तीय व ज़मीन-जायदाद से संबंधित मामलों में भी भाग्य का साथ मिलेगा। मीठी वाणी बोलने से सब मंगल ही मंगल होगा। आगे पढ़ें…

नौकरी में तरक्की नहीं मिलने से हैं परेशान, अवश्य करें: नौकरी में प्रमोशन के उपाय

सिंह- मेहनत का फल मीठा होता है और इस फल का स्वाद आपको इस गोचर के दौरान चखने को मिल सकता है। सकारात्मक व्यक्तित्व से जीवन में खुशी आएगी। आगे पढ़ें…

कन्या- शुक्र के कारण भोग विलास का आनंद उठा पाएंगे। करियर में एक नया मोड़ देखने को मिलेगा। आपके लिए लाभकारी कोई लंबी यात्रा तय है। आगे पढ़ें…

जानें देव वृक्ष पीपल का महत्व, पढ़ें: पीपल का पेड़ और पीपल के टोटके

तुला- शुक्र का ये गोचर आपके लिए लाभकारी रहने वाला है। आप पूर्ण रूप से इस समय का आनंद ले पाएंगे। निजी संबंध भी मज़बूत होंगे व कार्यों में सफलता मिलेगी। आगे पढ़ें…

वृश्चिक- करियर की दृष्टि से समय काफी लाभकारी है। छोटी-बड़ी यात्राओं का योग है। घर व बाहर दोनों जगह पर साथी का सहयोग मिलेगा। अपनी भावनाओं पर काबू रखें। आगे पढ़ें…

धनु- इस गोचर का लाभ केवल आपको ही नहीं बल्कि परिवार के अन्य जनों को भी प्राप्त होगा। लंबी यात्राएं हो सकती हैं लेकिन वो आपके व्यावसायिक हित में होंगी। आगे पढ़ें…

घर में गूंजेगी किलकारी, नि:संतान दंपति अभी करें: संतान प्राप्ति के उपाय

मकर- गोचर की ये अवधि आपके लिए कुछ खास नहीं है। स्वास्थ्य संबंधी कुछ परेशानियों देखने को मिल सकती हैं। इसलिए संयम से काम लें आगे पढ़ें…

कुंभ- वैवाहिक जीवन में रोमांस फिर से वापस आएगा लेकिन साथी के स्वाभिमान को ठेस न पहुंचाएं। सामाजिक छवि में सुधार और व्यक्तित्व में आकर्षण आएगा। आगे पढ़ें…

मीन- करियर के नज़रिए से ये गोचर काफी शुभकारी है। सेहत के मामले में लापरवाही नहीं करें। ऐसी बात न बोलें जिससे आपके साथी की भावना को चोट पहुंचे। आगे पढ़ें…

निःशुल्क ज्योतिष सॉफ्टवेयर से बनाएँ: ऑनलाइन कुंडली
Read More »

गुरु गोचर आज, क्या होगा असर?

पढ़ें किस राशि के लिए शुभ है यह गोचर? बृहस्पति ग्रह 12 सितंबर 2017 मंगलवार के दिन तुला राशि में गोचर करेगा और गुरुवार 11 अक्टूबर 2018 तक इसी राशि में स्थित रहेगा। गुरु के इस गोचर का प्रभाव सभी 12 राशियों पर पड़ेगा। इस ब्लॉग के ज़रिए जानते हैं, गुरु के गोचर का आपकी राशि पर होने वाला प्रभाव… 

36%
छूट

पूछें के पी सिस्टम के ज्योतिषी से

कीमत : रु 715
सेल कीमत : रु 455
36%
छूट

पूछें लाल किताब के ज्योतिषी से

कीमत : रु 715
सेल कीमत : रु 455
41%
छूट

एस्ट्रोसेज महा कुंडली

कीमत : रु 1105
सेल कीमत : रु 650
12%
छूट

प्रश्न पूछें

कीमत : रु 520
सेल कीमत : रु 455



मेष


मेष राशि वालों के लिए ये गोचर बेहद लाभकारी है। फिर चाहे वो आर्थिक दृष्टि से हो या फिर निजी संबंधों के लिहाज़ से, कुल मिलाकर गुरु की कृपा दृष्टि आप पर पूर्ण रूप से बनी रहेगी। आगे पढ़े

वृषभ


स्वास्थ्य के लिहाज़ से ये गोचर आपके लिए ठीक नहीं है। संघर्ष के साथ चुनौतियों का सामना करें सफलता ज़रूर मिलेगी। वाणी पर संयम रखें। आगे पढ़े

मिथुन


मिथुन राशि वालों के लिए गुरु का ये गोचर लाभकारी है, नौकरी में बदलाव मुमकिन है। विवाह के लिए योग्य जातकों को इस दौरान शहनाई की गूंज सुनाई दे सकती है। छात्रों व पेशेवरों दोनों के लिए ही समय उत्तम है। आगे पढ़े

सुख-समृद्धि के लिए करें बृहस्पति गृह के उपाय : बृहस्पति गृह के उपाय

कर्क


पारिवारिक जीवन में शांति बनी रहेगी। धर्म की ओर रुझान रहेगा। माता-पिता की सेहत को अनदेखा न करें। गुरु की कृपा बनी रहेगी। आगे पढ़े

सिंह


परिवार के लोगों की सेहत का ख़्याल रखने की ज़रूरत है। निरंतर कार्यरत होने के कारण सफलता हासिल करेंगे। निजी संबंधों में मिठास आएगी। आगे पढ़े

कन्या


यह समय आपके लिए सकारात्मक साबित होगा। समाज व परिवार में आदर मिलेगा। ज़मीन-जायदाद से लाभ की प्राप्ति संभव है। संवाद शैली में सुधार आएगा। आगे पढ़े

गुरु यंत्र के माध्यम से लाएं अपने जीवन में समृद्धि: खरीदें गुरु यंत्र

तुला


तुला राशि के जातकों पर गुरु ग्रह की कृपा पूर्ण रूप से बनी रहेगी। सभी मुश्किलों का अंत होगा व ज़िंदगी खुशहाल रहेगी। परोपकार के रास्ते पर चलेंगे। सेहत को नज़रअंदाज़ न करें। आगे पढ़े

वृश्चिक


गुरु का ये गोचर आपकी आर्थिक स्थिति को सुधारेगा। धर्म-कर्म से जुड़े कार्यों में रूचि रहेगी। छात्रों का पढ़ाई में मन केंद्रित होगा। पर्सनल लाइफ में शांति रहेगी। आगे पढ़े

धनु


आर्थिक संपन्नता बनी रहेगी। समाज में रुतबा बढ़ेगा। गुरु का प्रभाव आपके परिवार पर भी पड़ेगा। प्रेम संबंधों में मिठास आएगी। विवाह के योग भी नज़र आ रहे हैं। आगे पढ़े

रुद्राक्ष धारण करके जीवन में लाएं समृद्धि: खरीदें असली रुद्राक्ष

मकर


मकर राशि वाले जातकों के लिए करियर के लिहाज़ से ये गोचर बेहद लाभदायी है। कार्य क्षेत्र में सफलता हासिल होगी। निजी संबंध भी पहले से बेहतर होंगे। आगे पढ़े

कुंभ


गुरु का ये गोचर आपके लिए खुशियां ही खुशियां लेकर आएगा। धार्मिक कर्तव्यों का पालन करेंगे। समाज में सम्मान प्राप्त करेंगे। परिवार के लिए भी ये गोचर शुभ है। आगे पढ़े

मीन


ये गोचर आपके लिए मिला-जुला रहेगा। व्यावसायिक जीवन में सफलता हासिल होगी। ख़र्चों पर नियंत्रण रखें। भाषा में मिठास आएगी। सेहत का ख़्याल रखें। आगे पढ़े
Read More »

साप्ताहिक राशिफल, 11 से 17 सितंबर 2017

इन राशि वालों को मिलेगी एक बड़ी सौगात! पढ़ें साप्ताहिक राशिफल और जानें इस सप्ताह क्या होने वाला है खास? नौकरी, व्यापार और पारिवारिक जीवन के लिहाज से कैसा रहेगा यह सप्ताह?

36%
छूट

पूछें के पी सिस्टम के ज्योतिषी से

कीमत : रु 715
सेल कीमत : रु 455
36%
छूट

पूछें लाल किताब के ज्योतिषी से

कीमत : रु 715
सेल कीमत : रु 455
41%
छूट

एस्ट्रोसेज महा कुंडली

कीमत : रु 1105
सेल कीमत : रु 650

यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। चंद्र राशि कैल्कुलेटर से जानें अपनी चंद्र राशि।

मेष: सप्ताह की शुरुआत आपके लिए अच्छी रहेगी और मध्य में आपको मिश्रित परिणाम मिलेंगे जबकि वीकेंड फिर से अच्छे होने के संकेत दे रहा है। आपके घरेलू जीवन में उतार-चढ़ाव के पल देखने को मिल सकते हैं। बच्चों के स्वभाव में ज़िद्दीपन एवं चिढ़चिढ़ापन नज़र आ सकता है। हो सकता है उनका स्वास्थ्य भी कमज़ोर पड़ जाए इसलिए उनकी सेहत की देखभाल करें। आपको पेट संबंधी विकार हो सकते हैं अतः अपने खान-पान पर विशेष ध्यान दें। इस दौरान आपकी कार्यक्षमता में भी कमी आ सकती है। अच्छे परिणामों को पाने के लिए आपको अधिक मेहनती बनना होगा। इस सप्ताह आपकी आमदनी में गिरावट आने के संकेत दिखाई देर रहे हैं।

प्रेमफल: प्रेम के मामलों में इस सप्ताह तनाव, बहस एवं कटुता देखी जा सकती है। इस दौरान अपने पार्टनर पर कोई दबाव न डालें, अन्यथा परिस्थिति और भी बिगड़ सकती है। प्रेम के लिए सप्ताह की शुरुआत तो अच्छी है लेकिन मध्य में आपको मिलेजुले परिणाम प्राप्त होंगे और सप्ताहांत बहुत बेहतर रहेगा। यदि आप विवाहित हैं तो आपको और भी आनंद आएगा। जीवनसाथी को किसी प्रकार की उपलब्धि हासिल होने के योग दिखाई दे रहे हैं।

भाग्य स्टार: 3/5

उपाय: चांदी से बना कड़ा पहनना आपके लिए शुभ रहेगा।


वृषभ: इस सप्ताह आपको तनाव अपने साये में ले सकता है। ख़र्च में भी वृद्धि संभव है। सप्ताह का मध्य आपके लिए अनुकूल दिखाई दे रहा है, किंतु किसी कारणवश आपका ध्यान भटक सकता है। आपको भाई-बहनों के द्वारा फाइनेंशियल सपोर्ट मिल सकता है। घर में माता-पिता के स्वास्थ्य में गिरावट आने के संकेत दिखाई दे रहे हैं। अच्छा होगा कि आप उनका ख़्याल रखें। इस सप्ताह आप कोई प्रॉपर्टी अथवा वाहन ख़रीद सकते हैं। सरकारी क्षेत्र से भी लाभ मिलने के योग हैं। माता जी के स्वास्थ्य और घरेलु चीज़ों में आपका पैसा ख़र्च हो सकता है। इस वीक आपकी आय सामान्य रहेगी इसलिए देखभाल कर ख़र्च करें। इस सप्ताह बच्चे ख़ुशमिज़ाज़ रहेंगे। वहीं छात्र अपनी पढ़ाई में अधिक मेहनत करते हुए नज़र आएंगे। 

प्रेमफल: लव रिलेशन के लिए सप्ताह की शुरुआत थोड़ी धीमी है जबकि इसका मध्य सामान्य और वीकेंड अच्छा है। लव पार्टनर के साथ आपके रिश्ते मजबूत होंगे। आप दोनों साथ मिलकर ख़ूब इंज्वॉय करेंगे। यदि प्यार के लिए आप थोड़े ज़्यादा प्रयास करेंगे तो यह सप्ताह आपके लिए और भी बेहतरीन साबित हो सकता है। विवाहितों के लिए यह मिलाजुला सप्ताह रहेगा। 

भाग्य स्टार: 3.5/5

उपाय: छोटी कन्याओं को मिश्री बांटे।


मिथुन: मिथुन राशि वालों को विभिन्न स्रोतों से लाभ मिलेगा। दोस्तों से मिलना-मिलाना भी संभव है। आपके लिए सप्ताह का मध्य भाग ख़र्चीला रहेगा जबकि सप्ताहांत उत्तम रहने के संकेत दे रहा है। आपके पारिवारिक जीवन में सुख-शांति बनी रहेगी। कार्यक्षेत्र में भी परिस्थितियां आपके लिए अनुकूल रहेंगी। आप पूरे जोश और उत्साह के साथ काम करेंगे जिसमें आपको सफलता मिलेगी। थोड़ा सावधान रहें, क़ानूनी विवाद भी संभव है। आप छोटी दूरी की यात्रा पर जा सकते हैं। प्रतियोगी परीक्षा में आपको सफलता मिलेगी। बच्चों का स्वभाव अच्छा रहेगा। वहीं छात्र भी पढ़ाई में दिल से मेहनत करेंगे। इस हफ़्ते आपको अनचाही यात्रा पर भी जाना पड़ सकता है।

प्रेमफल: प्रेम की नाव में सवार लोगों के लिए यह सप्ताह आनंद देने वाला साबित होगा। इसमें आपको इंज्वॉयमेंट और रोमांस दोनों का मज़ा मिलेगा। किसी के साथ नए रिश्ते की शुरुआत भी संभव है लेकिन साथी से ज़्यादा इच्छाएं न रखे तो ही बेहतर है। विवाहितों के लिए यह सप्ताह अनुकूल रहेगा। इस हफ़्ते उनका वैवाहिक रिश्ता और भी मजबूत होगा।

भाग्य स्टार: 4/5

उपाय: अपने गले अथवा बाजू में विधारा मूल धारण करें।


कर्क: इस सप्ताह आप पूरी लगन और मेहनत के साथ अपने काम पर ध्यान देंगे। धार्मिक विषयों पर आपका झुकाव हो सकता है। आप किसी छोटी दूरी की यात्रा पर जा सकते हैं। आपका पारिवारिक जीवन बढ़िया रहेगा और आपको आर्थिक लाभ मिलने की प्रबल संभावना है। वीकेंड थोड़ा ख़र्चीला रह सकता है। आँखों से संबंधित रोगों से बचकर रहें और कटु शब्दों का प्रयोग न करें। बच्चे किसी चीज़ को लेकर ज़िद कर सकते हैं। वहीं छात्रों को पढ़ाई में ध्यान लगाने में दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है। भाई-बहनों की ओर से पूरा सहयोग मिलेगा और आपके करियर में भी उन्नति संभव है। सरकार के द्वारा लाभ मिलने के संकेत दिखाई दे रहे हैं। समाज में आपका क़द ऊँचा होगा।

प्रेमफल: प्यार के मामलों में आपको मिश्रित परिणाम मिलेंगे। लव रिलेशनशिप के लिए सप्ताह की शुरुआत अच्छी है, जबकि मध्यम भाग मिलाजुला है और वीकेंड सामान्य रहेगा। प्रेम में एक-दूजे को समझने का प्रयास करें। प्यार में तकरार भी संभव है। वहीं वैवाहिक जीवन में कठिनाई का सामना करना पड़ सकता है। जीवनसाथी से दूरियाँ हो सकती हैं, हालांकि इस दूरी में प्यार भी दिखेगा। 

भाग्य स्टार: 3.5/5

उपाय: मोती धारण करें और दूध से शिव लिंग का अभिषेक करें।


सिंह: घर में किसी धार्मिक कार्य के होने के योग हैं। आपके स्वभाव में अहंकार एवं क्रोध की वृद्धि हो सकती है। दोनों ही चीज़ें किसी भी सूरत में आपके लिए उचित नहीं है इसलिए इन पर नियंत्रण रखें। आप किसी लंबी दूरी की यात्रा पर जा सकते हैं। विदेशगमन के भी योग बन रहे हैं। अपने प्रोफ़ेशन को लेकर किसी यात्रा पर जाना पड़ सकता है। आपके ख़र्चों में वृद्धि की संभावना दिखाई दे रही है। भौतिक सुख-सुविधाओं में आपका धन ख़र्च हो सकता है। अपने घरेलू जीवन को लेकर आप परेशान रह सकते हैं। कार्यक्षेत्र में भी किसी ग़लतफहमी का शिकार हो सकते हैं। सफलता के लिए आपको कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता है।

प्रेमफल: प्यार के मामलों के लिए सप्ताह अनुकूल रहेगा और आपके प्रेम की डोर और भी मजबूत होगी। सप्ताह की शुरुआत अच्छी और मध्य सामान्य है जबकि सप्ताहांत फिर से अच्छे होने का वादा कर रहा है। वैवाहिक जीवन में जीवनसाथी से विवाद हो सकता है। इस दौरान बहसबाज़ी से बचें।

भाग्य स्टार: 3.5/5

उपाय: ‘’ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं सः गुरुवे नमः’’ मंत्र का जाप करें।


कन्या: आपको मानसिक तनाव रह सकता है। ख़र्च में वृद्धि भी संभव है। स्वास्थ्य के लिए सप्ताह ज़्यादा अनुकूल नहीं है। विदेश जाने की संभावना है। समाज में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा। आपके साहस में भी वृद्धि होगी। दोस्तों और परिजनों के साथ घूमना-फिरना संभव है। आपका घरेलू जीवन शांतिपूर्ण रहेगा। कार्यक्षेत्र में भी परिस्थितियाँ अनुकूल रहेंगी और आपकी आमदनी में वृद्धि होगी।

प्रेमफल: प्यार के लिए यह सप्ताह थोड़ा कम अनुकूल है। सप्ताह की शुरुआत सामान्य, मध्य थोड़ा और सप्ताहांत बढ़िया है। हालांकि पार्टनर के साथ किसी बात को लेकर झगड़ा हो सकता है। विवाहितों के लिए यह सप्ताह अच्छा रहेगा परंतु जीवनसाथी के स्वास्थ्य में कमी देखी जा सकती है।

भाग्य स्टार: 3.5/5

उपाय: गाय को प्रतिदिन हरा चारा खिलाएं।


तुला: इस सप्ताह आपके मन में अच्छे विचार आएँगे। विभिन्न स्रोतों से भी आपको लाभ मिलने की संभावना है। जीवनसाथी की की ओर लाभ मिलने के योग हैं। सरकार एवं वरिष्ठ अधिकारियों से भी आपको मदद मिलेगी। प्रोफेशनल क्षेत्र में तरक्की होगी परंतु आपके घरेलू जीवन में तनाव का माहौल देखने को मिल सकता है। बच्चों और छात्रों के स्वास्थ्य में कमी देखी जा सकती है। बोलते समय अपने शब्दों का चयन सोच-समझकर करें।

प्रेमफल: लव पार्टनर और आपके बीच अच्छा तालमेल दिखेगा परंतु कभी कभार दोनों के बीच अनबन भी संभव है। प्रियतम पर किसी का बात का दबाव न बनाए बल्कि उनकी भावनाओं को समझने का प्रयास करें। मैरिड लोगों के लिए यह सप्ताह अच्छा है। जीवनसाथी के साथ अच्छा समय व्यतीत होगा। 

भाग्य स्टार: 3.5/5

उपाय: मंदिर में काले रंग का झंडा लगाएं।


ऑनलाइन सॉफ्टवेयर से मुफ्त जन्म कुंडली प्राप्त करें

वृश्चिक: इस सप्ताह आपको तनाव, कार्य में बाधाएं, संघर्ष जैसी परिस्थितियों से गुजरना पड़ सकता है। हालांकि प्रोफेशनल क्षेत्र में आपको अच्छे अवसर प्राप्त होंगे। आपके अधिकारों का दायरा भी बढ़ सकता है। लंबी दूरी की यात्रा का आप आनंद ले सकते हैं। भाई-बहनों के साथ रिश्तों में खटास आ सकती है। आपकी संकल्प शक्ति मजबूत रहेगी। आय के सामान्य रहने के योग हैं।

प्रेमफल: अगर इन बातों को अमल में लाएंगे तो यह सप्ताह प्रेम के मामलों के लिए शानदार साबित हो सकता है। न तो लव पार्टनर के साथ बहसबाज़ी करें और न हीं उनके ऊपर बेवजह का शक़ करें। शादीशुदा लोगों के लिए सप्ताह सामान्य रहने के संकेत दे रहा है परंतु किसी बात को लेकर जीवनसाथी से मनमुटाव भी देखने को मिल सकता है।

भाग्य स्टार: 3/5

उपाय: बरगद के पेड़ की आराधना करें और इसकी जड़ों में शुद्ध दूध अर्पित करें और जड़ के पास की मिट्टी को अपने माथे पर लगाएं।


धनु: इस सप्ताह आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे। ख़ुद को ज़्यादा स्मार्ट समझने की कोशिश न करें और अपने काम पर ही ध्यान दें। ख़र्च में बढ़ोतरी हो सकती है और धन हानि के भी संकेत हैं। आमदनी में स्थिरता बनी रहेगी। उच्च शिक्षा हेतु छात्र विदेश जा सकते हैं। बच्चे थोड़े ज़्यादा ही शरारती हो सकते हैं।

प्रेमफल: लव मैटर के लिए सप्ताह की शुरुआत तो अच्छी है और इसका मध्य भाग सामान्य है परंतु वीकेंड धमाकेदार रहने के संकेत दे रहा है। दोनों साथ में समय गुजारे और कुछ ऐसा करें जो साथी को बहुत पसंद है। शादीशुदा लोगों के मिश्रित परिणामों की प्राप्ति हो सकती है। लव और रोमांस के साथ-साथ दोनों में प्यार भरी तकरार देखने को मिल सकती है। 

भाग्य स्टार: 4/5

उपाय: सूर्य को जल अर्पित करें।


मकर: आपके लिए यह सप्ताह सामान्य रहेगा परंतु आपकी आमदनी अच्छी रहेगी। स्वास्थ्य संबंधी परेशानी हो सकती है। घर के वातावरण में उतार-चढ़ाव की स्थिति बनी रह सकती है। छात्र अपनी पढ़ाई में अधिक मेहनत करेंगे। भाई-बहनों के द्वारा आपको हर संभव सहायता प्राप्त हो सकती है। मन में धार्मिक विचार आ सकते हैं। वहीं नौकरी में प्रमोशन होने के भी योग बन रहे हैं।

प्रेमफल: अपने प्यार के रिश्ते को आप शादी में बदल सकते हैं। सप्ताह की शुरुआत और मध्य प्यार के लिए अच्छा रहेगा जबकि वीकेंड के सामान्य रहने के संकेत हैं। एक-दूसरे का साथ आपको प्यारा लगेगा और आप दोनों भविष्य को लेकर अपनी योजनाएं बना सकते हैं। शादीशुदा जीवन में प्यार और रोमांस बना रहेगा। जीवनसाथी पर शक़ करने से बचें। 

भाग्य स्टार: 3.5/5

उपाय: नील शनि स्तोत्र का जाप करें। 


कुंभ: यह सप्ताह आपके लिए कम अनुकूल है इसलिए आपको इन दिनों सावधानी से काम लेना होगा। क्रोध, अंहकार और तनाव को अपने ऊपर हावी न होने दें। जीवनसाथी के स्वास्थ्य में कमी देखी जा सकती है। बिजनेस पार्टनर के साथ किसी बात को लेकर विवाद संभव है। आपके पारिवारिक जीवन में तनाव रह सकता है। इनकम सामान्य है परंतु ख़र्चों में वृद्धि दिखाई दे रही है। धन हानि भी हो सकती है।

प्रेमफल: सप्ताह की शुरुआत अच्छी है और इसके मध्य भाग को छोड़कर सप्ताहांत भी प्रेम के लिए बेहतर है। अपने प्रियतम के साथ आप वैवाहिक बंधन में बंध सकते हैं। प्यार के रिश्ते को और भी मजबूत बनाने के लिए संवाद का बना रहना ज़रुरी है। शादीशुदा जीवन में विवाद की स्थिति देखने को मिल सकती है। वैवाहिक जीवन को मधुर बनाने के लिए अहंकार का त्याग करें।

भाग्य स्टार: 3/5

उपाय: देशी गाय की पूजा करें और उसे आधी सेंकी हुई रोटी खिलाएं।



मीन: आपको इस सप्ताह मिले-जुले परिणाम प्राप्त होंगे। मानसिक रूप से आप मजबूत दिखेंगे। आपको अच्छे लाभ प्राप्त हो सकते हैं। प्रोफ़ेशनल क्षेत्र में आपको कामयाबी मिलने की प्रबल संभावना दिखाई दे रही है। अपने अच्छे प्रयासों की बदौलत आपको कोई बढ़िया गिफ़्ट मिल सकता है। घर में थोड़ी तनाव की स्थिति रह सकती है। माता-पिता जी के स्वास्थ्य में कमी देखी जा सकती है। आमदनी से अधिक ख़र्चा हो सकता है। 

प्रेमफल: प्यार के मामलों के लिए यह सप्ताह परफेक्ट है। लव पार्टनर के साथ रोमांस बना रहेगा। साथी के साथ मूवी, लॉन्ग ट्रिप पर जाया जा सकता है। किसी के साथ नया रिश्ता भी कायम हो सकता है। वैवाहिक जीवन में जीवनसाथी से मतभेद संभव है, हालाँकि उनका रिश्ता मजबूत बना रहेगा।

भाग्य स्टार: 3.5/5

उपाय: काले तिल दान करें।

Read More »

पितृ पक्ष, अनंत चतुर्दशी आज, जानें महत्व

पितृ पक्ष में अवश्य करें ये 10 कर्म! पढ़ें पितृ पक्ष पर किये जाने वाले श्राद्ध कर्म का महत्व और विधि। साथ ही जानें अनंत चतुर्दशी पर्व का धार्मिक और पौराणिक महत्व।

36%
छूट

पूछें के पी सिस्टम के ज्योतिषी से

कीमत : रु 715
सेल कीमत : रु 455
36%
छूट

पूछें लाल किताब के ज्योतिषी से

कीमत : रु 715
सेल कीमत : रु 455
41%
छूट

एस्ट्रोसेज महा कुंडली

कीमत : रु 1105
सेल कीमत : रु 650

Click here to read in English

हिन्दू धर्म में माता-पिता को देवता का दर्जा दिया गया है और उनकी सेवा को सबसे बड़ी पूजा माना गया है, इसलिए शास्त्रों में पितरों की शांति के लिए श्राद्ध का महत्व है। भाद्रपद पूर्णिमा से अश्विन कृष्ण पक्ष अमावस्या तक के सोलह दिनों को पितृपक्ष कहते हैं। इस अवधि में हम अपने पूर्वजों की आत्मा की शांति के लिए दान, धर्म, हवन और पूजा-पाठ करते हैं। इस बार पितृ पक्ष 5 सितंबर से 19 सितंबर 2017 तक चलेंगे।


पितृ पक्ष में पिंड दान कैसे करें?

  • ब्रह्मवैवर्त पुराण के अनुसार दिवंगत पितरों के परिवार में सबसे बड़ा पुत्र या सबसे छोटा पुत्र और अगर पुत्र न हो तो भांजा, भतीजा, नाती पिंडदान कर सकते हैं। 
  • श्राद्ध में मुख्य रूप से तीन कार्य होते हैं, पिंडदान, तर्पण और ब्राह्मण भोज। दक्षिणाविमुख होकर आचमन कर अपने जनेऊ को दाएं कंधे पर रखकर चावल, गाय का दूध, घी, शक्कर एवं शहद को मिलाकर बने पिंडों को श्रद्धा भाव के साथ अपने पितरों को अर्पित करना पिंडदान कहलाता है। 
  • जल में काले तिल, जौ, कुशा एवं सफेद फूल मिलाकर उससे विधिपूर्वक तर्पण किया जाता है। मान्यता है कि इससे पितृ तृप्त होते हैं। इसके बाद ब्राह्मण भोज कराया जाता है। 
  • पितरों का तर्पण गया और प्रयाग जाकर करें या फिर अपने घर पर ही करें। 
  • शास्त्रों में कहा गया है कि इन दिनों में आपके पूर्वज किसी भी रूप में आपके द्वार पर आ सकते हैं इसलिए घर आए किसी भी व्यक्ति का निरादर नहीं करें।
  • पितृ पक्ष के दौरान ब्रह्मचर्य का पालन करें और मांस-मदिरा के सेवन से दूर रहें।


कब और कैसे करना चाहिए श्राद्ध?


पितृ पक्ष परंपरा के अनुसार दिवंगत परिजनों का श्राद्ध उनकी मृत्यु तिथि पर किया जाना चाहिए। यदि किसी परिजन की मृत्यु सप्तमी को हुई हो तो, उनका श्राद्ध सप्तमी के दिन किया जाता है। ठीक इसी प्रकार अन्य तिथियों में किया जाता है। इसके अतिरिक्त कुछ विशेष मान्यताएं भी हैं जो इस प्रकार हैं:
  • पिता का श्राद्ध अष्टमी और माता का श्राद्ध नवमी के दिन किया जाता है।
  • परिवार में जिन परिजनों की अकाल मृत्यु हुई है यानि किसी दुर्घटना या आत्महत्या के कारण हुई है। उनका श्राद्ध चतुर्दशी के दिन किया जाता है।
  • साधु और संन्यासियों का श्राद्ध द्वादशी के दिन किया जाता है।
  • जिन पितृो की मृत्यु तिथि याद नहीं हो, उनका श्राद्ध अमावस्या के दिन किया जाना चाहिए। इस दिन को सर्व पितृ श्राद्ध कहा जाता है। 


पितृ पक्ष में 10 प्रकार के दान का महत्व


श्राद्ध पक्ष में 10 तरह के दान-पुण्य करने से पितृो को परम शांति मिलती है। इनमें गाय, भूमि, वस्त्र, काले तिल, सोना, घी, गुड़, धान, चांदी और नमक आदि का दान करना चाहिए। इसके अतिरिक्त पितृ पक्ष में मूक जानवरों को भी भोजन कराना चाहिए।

पितृ पक्ष पर श्राद्ध कर्म के बारे में जानने के बाद अब पढ़ें...आज मनाई जा रही अनंत चतुर्दशी का धार्मिक और पौराणिक महत्व व पूजा विधि

अनंत चतुर्दशी हर साल भारत वर्ष में धूमधाम से मनाई जाती है। इसे अनंत चौदस के नाम से भी जाना जाता है। यह पर्व भाद्रपद मास में शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी को मनाया जाता है। इस वर्ष अनंत चतुर्दशी 5 सितंबर को मनाई जा रही है। इस दिन भगवान विष्णु के अनंत रूप की पूजा की जाती है। इस पूजन के बाद अनंत सूत्र बांधने का बड़ा महत्व है। ये अनंत सूत्र कपास या रेशम के धागे से बने होते हैं और विशेष पूजा-अर्चना के बाद इन्हें हाथ पर बांधा जाता है। मान्यता है कि अनंत सूत्र बांधने से भगवान अनंत हमारी रक्षा करते हैं और सांसारिक वैभव प्रदान करते हैं। अनंत चतुर्दशी पर सुख-समृद्धि और संतान की कामना से व्रत भी रखा जाता है। इस दिन भगवान विष्णु की लोक कथाएं सुनी जाती हैं। अनंत चतुर्दशी के दिन ही गणेश उत्सव का समापन होता है। इस वजह से अनंत चतुर्दशी का महत्व और भी बढ़ जाता है।


अनंत चतुर्दशी पूजा मुहूर्त
06:00:48 से 12:42:53 तक
अवधि
6 घंटे 42 मिनट

उपरोक्त मुहूर्त नई दिल्ली के लिए है। अपने शहर के अनुसार जानें: अनंत चतुर्दशी का पूजा मुहूर्त

अनंत चतुर्दशी का महत्व 


धार्मिक मान्यता के अनुसार अनंत चतुर्दशी पर्व और व्रत की शुरुआत महाभारत काल से हुई थी। जब पांडव पुत्र राज्य हारकर वनवास काट रहे थे उस समय भगवान श्री कृष्ण ने वन में उन्हें अनंत चतुर्दशी व्रत के महत्व का वर्णन सुनाया था। कहते हैं कि सृष्टि के आरंभ में 14 लोकों की रक्षा और पालन के लिए भगवान विष्णु चौदह रूपों में प्रकट हुए थे, इससे वे अनंत प्रतीत होने लगे। इसलिए अनंत चतुर्दशी का व्रत भगवान विष्णु को प्रसन्न करने और अनंत फल देने वाला माना गया है।

अनंत चतुर्दशी पर भगवान विष्णु के अनंत रूप की पूजा की जाती है। यह पूजन दोपहर में संपन्न होता है। इस दिन प्रात:काल स्नान के बाद व्रत का संकल्प लिया जाता है और कलश स्थापना की जाती है। अग्नि पुराण में अनंत चतुर्दशी व्रत और पूजा के महत्व का वर्णन मिलता है।


हम आशा करते हैं कि पितृ पक्ष और अनंत चतुर्दशी पर आधारित यह लेख आपके लिए उपयोगी सिद्ध हो। एस्ट्रोसेज की ओर से शुभकामनाएं!
Read More »