नरक चतुर्दशी आज,जानें स्नान-पूजा मुहूर्त

नरक चतुर्दशी पर जानें तिल के तेल से मालिश का महत्व,और अभ्यंग स्नान का शुभ मुहूर्त व पूजा विधि।

Click here to read in English

नरक चतुर्दशी का पर्व हर साल कार्तिक मास में कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मनाया जाता है। यह त्यौहार दीपावली के एक दिन पूर्व मनाया जाता है इसलिए इसे छोटी दीवाली भी कहा जाता है। नरक चतुर्दशी को नरक चौदस, रूप चौदस और रूप चतुर्दशी के नाम से भी जाना जाता है। हिन्दू पौराणिक मान्यता के अनुसार इस दिन लोग अभ्यंग स्नान करने के बाद यमराज की पूजा का विधान है। ऐसा करने से अकाल मृत्यु के भय से मुक्ति मिलती है। इस दिन संध्या के समय दीप जलाए जाते हैं। 

अभ्यंग स्नान का शुभ मुहूर्त (केवल नई दिल्ली के लिए प्रभावी)


दिनांक
18 अक्टूबर 2017
समय
04:47:00 से 06:23:24 बजे तक
अवधि
1 घंटे 36 मिनट


अभ्यंग स्नान


नरक चतुर्दशी के दिन अभ्यंग स्नान का बड़ा महत्व होता है। ऐसा कहा जाता है कि यदि इस पावन दिन पर शुभ मुहूर्त के समय अभ्यंग स्नान किया जाए तो व्यक्ति को नर्क के भय से मुक्ति मिलती है। अभ्यंग स्नान से पहले शरीर पर तिल के तेल की मालिश की जाती है, इसके बाद अपामार्ग (चिरचिरा) की पत्तियाँ स्नान हेतु पानी में डाली जाती है और उसके बाद ही इससे स्नान किया जाता है।


कैसे पायें व्यापार में वृद्धि? पढ़ें: व्यापार वृद्धि के उपाय 


नरक चतुर्दशी का धार्मिक महत्व


पौराणिक कथा के अनुसार नरकासुर नामक राक्षस ने अपनी शक्तियों से देवताओं और साधु संतों को आतंकित कर 16 हज़ार स्त्रियों को बंधक बना लिया था। नरकासुर के आतंक से परेशान होकर समस्त देवतागण एवं साधु-संत भगवान श्री कृष्ण की शरण में पहुँचे। तब श्री कृष्ण जी ने सभी को नरकासुर के आतंक से मुक्ति दिलाने का आश्वासन दिया। उधर, नरकासुर को स्त्री के हाथों से मरने का श्राप था इसलिए श्री कृष्ण जी ने अपनी पत्नी सत्यभामा की मदद से कार्तिक मास में कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को नरकासुर का वध किया और उसकी क़ैद से 16 हज़ार स्त्रियों को आज़ाद कराया। बाद में ये सभी स्त्रियाँ भगवान श्री कृष्ण की पट रानियां कहलायीं। नरकासुर के वध के बाद लोगों ने कार्तिक मास की अमावस्या को अपने घरों में दीये जलाकर ख़ुशियाँ मनायीं और तभी से नरक चतुर्दशी और दीपावली का त्यौहार मनाया जाने लगा।

एस्ट्रोसेज की ओर से आप सभी पाठकों को नरक चतुर्दशी की हार्दिक शुभकामनाएँ !
Read More »

आख़िरी दिन, आख़िरी मौक़ा, बेहतरीन डील्स! #बिग_एस्ट्रो_फेस्टिवल

लक्ष्मी पूजा की सही विधि , 20% कैशबैक, मुफ़्त रुद्राक्ष, ईएमआई की सुविधा, भारी छूट, अनदेखी- अनसुनी डील्स, और भी बहुत कुछ...
Read More »

धनतेरस धमाका डील्स!!!

धनतेरस धमाका डील्स, फ़्री रुद्राक्ष, ईएमआई की सुविधा, राज योग रिपोर्ट, दिवाली धूम...
Read More »

सूर्य का महागमन कल, जानें प्रभाव

सूर्य के महागमन से होगा आपका भाग्योदय ! सूर्य देव 17 अक्टूबर 2017 को दोपहर 12:50 पर तुला राशि में गोचर कर रहे हैं और 16 नवंबर 2017 को दोपहर 12:56 तक वे इसी राशि में स्थित रहेंगे। अतः इस गोचर का प्रभाव आपकी राशि पर पड़ेगा। उन प्रभावों पर डालते हैं एक नज़र...





यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। चंद्र राशि जानने के लिए क्लिक करें चंद्र राशि कैलकुलेटर

मेष


आपको अपने वैवाहिक जीवन में कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। भाई-बहनों के साथ मतभेद भी हो सकते हैं। आगे पढ़ें...

वृषभ

आप अपने लक्ष्य के प्रति केंद्रित रहेंगे और उसे प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे। आप काफी प्रतिस्पर्धी होंगे। आगे पढ़ें...

मिथुन


करियर में बढ़ोत्तरी हासिल होगी। हालांकि बच्चों को पढ़ाई में ध्यान लगाने में कुछ दिक्कत हो सकती है। प्रेम संबंधों के लिए ये वक्त उचित नहीं है। आगे पढ़ें…

निःशुल्क ज्योतिष सॉफ्टवेयर से बनाएँ: ऑनलाइन कुंडली

कर्क


माँ को सेहत से जुड़ी परेशानियां हो सकती हैं और आप मानसिक तनाव से ग्रस्त हो सकते हैं। ये तनाव आपके चेहरे पर भी नज़र आएगा। आगे पढ़ें...

सिंह


आपके स्वास्थ्य में सुधार होगा। पुरानी बीमारी से छुटकारा मिलेगा। संभव है कि भाई-बहनों को इस दौरान किसी परेशानी का सामना करना पड़े। आगे पढ़ें...

कन्या


वाणी में कड़वाहट आ जाने से रिश्तों की मिठास फीकी पड़ सकती है। परिवार में विवाद हो सकते हैं लेकिन आपको अपने गुस्से पर काबू रखना होगा। आगे पढ़ें...

सूर्य का आशीर्वाद पाने के लिए करेंः सूर्य ग्रह के उपाय

तुला


सेहत से संबंधित कुछ समस्याएं परेशान कर सकती हैं। अहंकार व क्रोध की वजह से लड़ाई-झगड़े हो सकते हैं। आगे पढ़ें...

वृश्चिक


व्यावसायिक कार्यों के सिलसिले में विदेश या अन्य किसी दूर जगह पर जा सकते हैं। मानसिक तनाव बहुत ज़्यादा रहेगा। आगे पढ़ें...

धनु


आपको जीवन में कई फायदे होंगे। वरिष्ठ अधिकारियों, सरकारी अफसरों आदि से लाभ प्राप्त हो सकता है। आगे पढ़ें...

जानें करियर के किस क्षेत्र में मिलेगी आपको तरक्की: करियर और व्यवसाय रिपोर्ट

मकर


सरकारी क्षेत्रों व नीतियों से फायदा होगा। कार्यस्थल पर सम्मान बढ़ेगा जिससे सीनियर्स के साथ उठना-बैठना बढ़ जाएगा। आगे पढ़ें...

जीवन में सुख-समृद्धि के लिए करें: महालक्ष्मी यंत्र की स्थापना

कुंभ


समाज में रूतबा कम होने से आपका मन बेचैन हो सकता है। पिता के स्वास्थ्य पर ध्यान देने की आवश्यकता है। आगे पढ़ें...

मीन


सेहत से जुड़ी परेशानियां हो सकती हैं। ऐसे में अपने स्वास्थ्य का ख़्याल रखें और पूरा इलाज करवाएं। आपके लक्ष्य में रूकावटें आ सकती हैं। आगे पढ़ें...


Read More »

जानिए लक्ष्मी पूजा की सही विधि

धन प्राप्ति के लिये दिवाली पर लक्ष्मी पूजा करें शास्त्रीय विधि से और पाएँ सफलता व समृद्धि अपने जीवन में।
यह "सरल दिवाली लक्ष्मी पूजा विधि" ई-बुक आपको दीपावली के दिन लक्ष्मी-गणेश पूजन के लिए क्रमवार प्रक्रिया बताती है। दिवाली माँ लक्ष्मी की आराधना का दिन है और लक्ष्मी जी धन-धान्य व सम्पन्नता की देवी हैं। लेकिन यदि उनकी पूजा सही विधि-विधान से न की जाए तो माँ से इच्छित आशीर्वाद प्राप्त नहीं होता है। हमने यह ई-बुक शास्त्रों में दिए गए ज्ञान के आधार पर तैयार की है, ताकि आप भली-भाँति दिवाली पूजन कर सकें। आज के युग में समय बहुमूल्य है--यह बात ध्यान में रखकर हमने पूरी प्रक्रिया का बेहद आसान भाषा में वर्णन किया है, किसी भी बात में निरर्थक विस्तार नहीं दिया है और शास्त्रीय परिपाटी का पालन किया है। इसमें आप कई देशी-विदेशी शहरों के लिए लक्ष्मी पूजा ले लिए आवश्यक सटीक मुहूर्त की सूची भी पाएंगे। इस ई-पुस्तक की सहायता से आप 30 से 45 मिनट के अन्दर सही विधि से लक्ष्मी-गणेश की पूजा कर सकते हैं और पूजन का पूरा लाभ प्राप्त कर सकते हैं। सही तरह से दिवाली पूजन करके अपने जीवन में सफलता, समृद्धि और धन-सम्पत्ति आकर्षित करने का यह मौक़ा अपने हाथ से न जाने दें। "सरल दिवाली लक्ष्मी पूजा विधि" ई-बुक अभी ऑर्डर करें!
Read More »

धनतेरस कल, जानें मुहूर्त और पूजा विधि

धन और स्वास्थ्य के लिए अवश्य करें ये उपाय! पढ़ें धनतेरस पर्व का धार्मिक और ऐतिहासिक महत्व। जानें इस दिन आयुर्वेद के जनक देव धन्वंतरि और मृत्यु के देवता यमराज की पूजन का विधान।

Click here to read in English

दिवाली हिंदू धर्म का सबसे प्रमुख त्यौहार है। यह पांच दिनों तक चलने वाला उत्सव है और इसकी शुरुआत धनतेरस से होती है। हिन्दू पंचांग के अनुसार धनतेरस पर्व कार्तिक माह में कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि पर मनाया जाता है। पौराणिक मान्यता के अनुसार इस दिन आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति के जनक धन्वंतरि देव समुद्र मंथन से अमृत कलश लेकर प्रकट हुए थे, इसलिए इसे धन्वंतरि जयंती भी कहा जाता है। धनतेरस से ही घरों में दिवाली पर होने वाली सजावट और खरीददारी शुरू हो जाती है। मान्यता है कि इस दिन कोई भी व्यक्ति अपना धन और वस्तु किसी को उधार नहीं देता है। इसके अतिरिक्त धनतेरस पर बर्तन, आभूषण और वस्त्र भी खरीदे जाते हैं।


धनतेरस मुहूर्त



मुहूर्त
19:21:21 से 20:20:41
अवधि
59 मिनट
प्रदोष काल मुहूर्त
17:50:00 से 20:20:41 तक
वृषभ काल मुहूर्त
19:21:21 से 21:17:09 तक

उपरोक्त तालिका में दिया गया मुहूर्त नई दिल्ली के लिए है। अपने शहर के अनुसार जानें: धनतेरस मुहूर्त


धन्वंतरि जयंती


मुख्य रूप से धनतेरस का पर्व आयुर्वेद के जनक धन्वंतरि देव की स्मृति में मनाया जाता है, इसलिए इस दिन वैद्य और हकीम भगवान धन्वंतरि का पूजन करते हैं। पूजा में भगवान धन्वंतरि को रोली, चावल, पुष्प और नैवेद्य आदि अर्पित करें। यदि संभव हो सके तो नए बर्तन में खीर का भोग लगाएं और नीचे दिये गए मंत्र का जप करें-

‘’ॐ धन्वंतराये नमः॥’’


इस प्रकार भगवान धन्वंतरि का पूजन करते हुए उनसे बेहतर स्वास्थ्य और समृद्धि की कामना करें। 


धनतेरस पर यम पूजन


पौराणिक ग्रन्थों के अनुसार धनतेरस पर मृत्यु के देवता यमराज के निमित्त दीपदान करने का विधान है। ऐसा कहा जाता है कि जिस घर में धनतेरस पर संध्याकाल में यमराज के निमित्त दीप जलाये जाते हैं, वहां अकाल मृत्यु का भय समाप्त हो जाता है। 

  • इस दिन आटे का दीपक बनाकर घर के मुख्य द्वार के पर रखा जाता है, इस दीप को जमदीवा यानि यमराज का दीपक कहा जाता है।

  • रात्रि के समय में महिलाएं नई रुई की बत्ती बनाकर चार बत्तियां जलाएं और दीपक की बत्ती दक्षिण दिशा की ओर रखनी चाहिए।

  • यमराज जल, फूल और नैवेद्य अर्पित कर यम पूजन करें और उन्हें श्रद्धापूर्वक नमन करते हुए प्रार्थना करें कि वे अपनी दया दृष्टि आपके परिवार पर बनाए रखें।

जीवन में सुख-समृद्धि के लिए करें- महालक्ष्मी यंत्र की स्थापना

धनतेरस पर शाम के समय आंगन में रंगोली बनाकर दीप जलाना चाहिए और लक्ष्मी जी का आह्वान करना चाहिए। कार्तिक स्नान करके प्रदोष काल में घाट, गौशाला, कुआं, बावड़ी और मंदिरों में तीन दिन तक दीपक जलाना चाहिए।

एस्ट्रोसेज की ओर से सभी पाठकों को धनतेरस पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं! भगवान धन्वंतरि आपको बेहतर स्वास्थ्य और दीर्घायु प्रदान करें। 
Read More »

क्या आपकी कुंडली में राज योग है?

जानिए कब मिलेगी आपको प्रसिद्धि, संपत्ति और समृद्धि!
Read More »

साप्ताहिक राशिफल (16 - 22 अक्टूबर 2017)

ग्रहों के महायोग का इन राशि को मिलेगा लाभ! पढ़ें साप्ताहिक राशिफल व जानें नौकरी, व्यवसाय, शिक्षा और पारिवारिक जीवन से जुड़ी भविष्यवाणियां। 



यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। जानें अपनी चंद्र राशि: चंद्र राशि कैल्कुलेटर

मेष


आपका मन पढ़ाई में लगेगा और नई चीज़ों को सीखने में रुचि जगेगी। अपनी कलात्मक प्रतिभा को आप आगे बढ़ाने का प्रयास करेंगे और इससे आपकी आमदनी भी होगी। पारिवारिक जीवन में कुछ समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। व्यस्तता के कारण परिवार को समय ना दे पाना इसकी एक वजह हो सकती है। कार्य क्षेत्र से आप का मोह भंग हो सकता है। ऐसे विचारों को मन में न लाएं और अपने कार्य के प्रति कर्तव्य निष्ठा बनाए रखें।

प्रेमफल: यह सप्ताह कुल मिलाकर ठीक-ठाक गुजरेगा। सप्ताह की शुरुआत अच्छी, मध्य भाग कुछ कमजोर तथा सप्ताह का अंत सामान्य रहने के संकेत दे रहा है। लव पार्टनर के साथ घुलमिल कर रहें। उनसे किसी भी बात को लेकर बहसबाजी करने से बचें। यदि आप विवाहित हैं तो समय आपके जीवन में अच्छा पल लेकर आएगा और आप का दांपत्य जीवन मजबूत बनेगा। 

भाग्यस्टार: 3.5/5

उपाय: बरगद वृक्ष की जड़ों में कच्चा दूध चढ़ाएं। 


वृषभ


यह सप्ताह आपके लिए अच्छा व्यतीत होगा। कठिन परिश्रम आपके लिए सफलता के मार्ग खोलेगा। कार्यस्थल पर आपको उन्नति प्राप्त हो सकती है। आपको छोटी यात्राओं पर जाना हो सकता है। धर्म-कर्म में आपका ज़्यादा मन लगेगा। पारिवारिक जीवन सुखी रहेगा परंतु संभव है कि किसी कारणवश आपको परिवार से दूर जाना पड़े। आपके साहस में वृद्धि होगी। भाई बहनों को कुछ समस्या हो सकती है। यदि आप पर कोई कर्ज है तो आप उसे चुका पाने में सफल होंगे। 

प्रेमफल: प्रेम संबंधों के लिए अच्छा समय है। दोनों के बीच लड़ाई-झगड़ा भी हो सकता है परंतु यदि आप अपने प्रेम जीवन से विवादों को दूर रखेंगे तो प्रेम के समंदर में गोते लगाने में सफल रहेंगे। अपने लव पार्टनर के साथ आप सिनेमा, खाने-पीने और सैर-सपाटे का आनंद लेंगे। यदि आप विवाहित हैं तो आपको जीवनसाथी से कोई लाभ प्राप्त हो सकता है। 

भाग्यस्टार: 4/5 

उपाय: माँ दुर्गा की आराधना करें और उन्हें खीर का भोग लगाएं।

मिथुन

मिथुन राशि के जातकों के लिए सप्ताह मिले-जुले परिणाम देने वाला रहेगा। शुरुआत में आपका आत्मबल काफी मजबूत रहेगा। पारिवारिक जीवन में कुछ विवाद उत्पन्न हो सकते हैं। माता जी का स्वास्थ्य कमजोर रह सकता है इसलिए उनका ध्यान रखें। आपकी संतान तरक्की और आनंद का अनुभव करेगी। आपकी नौकरी में परिवर्तन के योग बनेंगे। आप किसी प्रॉपर्टी को लेने का मन बना सकते हैं। 

प्रेमफल: प्रेम जीवन में सफलता मिलने के योग हैं। प्रियतम के साथ आपका संबंध मधुर होगा और घनिष्ठता बढ़ेगी। रिलेशनशिप में एक ठहराव आएगा और आप एक दूसरे को समझ पाएंगे। सप्ताह की शुरुआत अच्छी, मध्य सामान्य और सप्ताहांत बेहतर रहेगा। जीवनसाथी को तरक्की प्राप्त हो सकती है। यदि जीवनसाथी कार्यरत हैं तो उनको कार्यक्षेत्र पर भी उचित पद प्राप्त होगा।

भाग्यस्टार: 3.5

उपाय: भगवान हरि विष्णु की उपासना करें और उन्हें पीले पुष्प चढ़ाएं।


कर्क


इस सप्ताह आप शांतिपूर्ण अपने पारिवारिक जीवन का आनंद उठाएंगे। आपके साहस में वृद्धि होगी और आप पूरी उर्जा के साथ अपने कार्य को पूरा करेंगे। कभी-कभी मन में भ्रम की स्थिति रहेगी। माता जी को स्वास्थ्य लाभ मिलेगा। छोटे भाई-बहनों को शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। कार्यक्षेत्र में परिवर्तन की संभावना है। आपके वरिष्ठ अधिकारी आपको नई चुनौतियां दे सकते हैं इसलिए तैयार रहें। आपकी आमदनी सामान्य रहेगी। 

प्रेमफल: सप्ताह की शुरुआत अच्छी, मध्य उत्तम और सप्ताहांत भी अच्छा रहने का संकेत कर रहा है। अपने पार्टनर के प्रति वफादार बने रहें। किसी छोटी दूरी पर साथी के साथ जाने की संभावना है। नए रिश्ते की शुरुआत भी संभव है। वैवाहिक जीवन में कुछ उतार-चढ़ाव आ सकते हैं। व्यर्थ के संदेश से पारिवारिक जीवन में क्लेश उत्पन्न हो सकता है। जीवनसाथी का भाग्योदय होगा। 

भाग्यस्टार: 3/5

उपाय: काले कुत्ते को रोटी खिलाएं और भैरव बाबा की उपासना करें।


सिंह


इस सप्ताह परिवार में किसी शुभ कार्य का आयोजन हो सकता है। वाणी में मिठास बनाए रखें और कड़वा बोलने से बचें। शुभ कार्यों को करने में आपको आनंद आएगा और आप धार्मिक कार्यक्रमों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेंगे। आपको भाई बहनों की ओर से सहायता मिलेगी। आप धन एकत्रित अथवा संचय करने में सक्षम होंगे। कार्यक्षेत्र में आपका अच्छा समय व्यतीत होगा। खर्चों पर नियंत्रण रखने का प्रयास करें और किसी भी गलत कार्य में संलिप्त ना हों।

प्रेमफल: सप्ताह की शुरुआत अच्छी, मध्य सामान्य तथा सप्ताहांत बेहतर रहने का अनुमान है। अपने रिश्ते में मधुरता बनाए रखें। कहीं साथ खाने का मौका मिले तो उसे बिल्कुल ना छोड़ें। शादीशुदा जातक परिवार के प्रति अपना ध्यान लगाएंगे और एक अच्छा समय अपने जीवन साथी के साथ व्यतीत करेंगे। वहीं दूसरी ओर जीवनसाथी को शारीरिक कष्ट हो सकता है। 

भाग्यस्टार: 3.5/5

उपाय: सूर्यदेव को जल अर्पित करें और श्वेतार्क वृक्ष की पूजा करें। 


कन्या


आपके अंदर प्रेम के साथ-साथ क्रोध का समावेश होगा जिसके कारण आपके रिश्तों में समस्या पनप सकती है। स्वास्थ्य कुछ कमजोर रह सकता है। आप परिवार के प्रति अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करेंगे। आपकी आमदनी बढ़ेगी और करियर में आपको आगे बढ़ने के मौके मिलेंगे। कार्यस्थल पर आपका प्रयास सराहनीय रहेगा। सीनियर्स भी आपकी तारीफ़ करेंगे। पारिवारिक जीवन थोड़ा उतार-चढ़ाव से भरा रह सकता है। वाहन सावधानी से चलाएं। 

प्रेमफल: सप्ताह की शुरुआत मंद, मध्य भाग सामान्य तथा सप्ताहांत अच्छा रहेगा। किसी भी प्रकार के संदेह को ना पनपने दें और अपने साथी के साथ अच्छा समय व्यतीत करें। यदि आप पहले से ही किसी रिश्ते में हैं तो उसे संभालने का प्रयास करें। यदि विवाहित हैं तो जीवनसाथी के द्वारा धन लाभ मिलने की संभावना है। अहंकार का त्याग करें।

भाग्यस्टार: 3/5

उपाय: विष्णु भगवान की उपासना करें और उन्हें कनेर के फूल चढ़ाएं। 

जीवन में सुख-समृद्धि के लिए करें: महालक्ष्मी यंत्र की स्थापना


तुला


आपकी सोच में परिपक्वता आएगी और आपके द्वारा लिए गए निर्णय आपकी समृद्धि का कारण बनेंगे, हालांकि पारिवारिक जीवन में कुछ मनमुटाव होने की संभावना है। काम में व्यस्त होने के कारण आप परिवार को पर्याप्त समय नहीं दे पाएंगे। आप विदेश यात्रा की योजना बना सकते हैं। आप लग्जरी जीवन बिताने में मशगूल रहेंगे। छात्रों का पढ़ाई में मन लगेगा। वहीं आपके बच्चे खुशनुमा जीवन व्यतीत करेंगे। वासनात्मक विचारों को स्वयं पर हावी ना होने दें। 

प्रेमफल: प्रेमी युगल के लिए यह सप्ताह अच्छा रहेगा। आप प्रेम में प्रगाढ़ता का अनुभव करेंगे और एक दूसरे को बेहतर समझेंगे। यदि आप विवाहित हैं तो जीवनसाथी को कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। जीवनसाथी के संग विदेश यात्रा के योग बनेंगे। व्यर्थ के मनमुटाव से दूर रहने का प्रयास करें। 

भाग्यस्टार: 4/5

उपाय: माँ दुर्गा को लाल पुष्प भेंट करें। 


ऑनलाइन सॉफ्टवेयर से मुफ्त जन्म कुंडली प्राप्त करें।

वृश्चिक


यह सप्ताह आपके लिए उन्नतिदायक होगा। अपनी कुशल योजनाओं को क्रियान्वित कर आप लाभ प्राप्त करेंगे। आमदनी में अच्छी बढ़ोतरी होगी। पारिवारिक जीवन में तालमेल दिखेगा। आपके हौंसले में वृद्धि होगी। भाई बहनों को कुछ कष्ट हो सकता है। जो विद्यार्थी विदेश में पढ़ाई करना चाहते हैं उनके लिए यह सप्ताह उचित अवसर देगा। आपकी संतान आनंद पूर्वक जीवन व्यतीत करेगी। कार्यक्षेत्र में वरिष्ठ अधिकारियों का सहयोग मिलेगा। 

प्रेमफल: इस सप्ताह आप अपने साथी के साथ अच्छे पलों का आनंद उठाएंगे। इस समय कहीं घूमने जा सकते हैं या फिर सिनेमा भी आपके लिए एक अच्छा विकल्प रहेगा। यदि विवाहित हैं आपको जीवनसाथी के माध्यम से तरक्की प्राप्त हो सकती है। आप दोनों साथ में अच्छे पल बिताएंगे। 

भाग्यस्टार: 4/5

उपाय: प्रतिदिन केसर का तिलक लगाएं। 


धनु


इस सप्ताह यात्राएं योग में हैं। करियर में आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे। पदोन्नति की प्रबल संभावना है। आपको आर्थिक लाभ होगा। कार्यस्थल पर गॉसिप करने से बचें। घर में माता जी की सेहत कमजोर रह सकती है इसलिए उनकी सेहत का ख़्याल रखें। आपकी संतान के लिए सप्ताह अच्छा बीतेगा। छात्र पढ़ने में मन लगाएंगे। किसी बात को लेकर घर में मनमुटाव हो सकता है। वहीं विदेशी संबंधों से आपको लाभ मिलेगा।

प्रेमफल: सप्ताह की शुरुआत अच्छी रहेगी। वहीं मध्य सामान्य और सप्ताहांत बहुत ही अच्छा रहेगा। प्रेम के माध्यम से आप दोनों के बीच निर्भरता बढ़ेगी। दोनों में तालमेल दिखाई देगा। लव पार्टनर आपसे प्रेम विवाह करने को उत्सुक रहेगा। वैवाहिक जीवन में जीवनसाथी के द्वारा किसी प्रकार का लाभ होने की संभावना है। कुल मिलाकर सप्ताह अच्छा व्यतीत होगा।

भाग्यस्टार: 3.5/5

उपाय: पीपल के वृक्ष में बृहस्पतिवार को जल चढ़ाएं।


मकर

सप्ताह की शुरुआत में आपको मानसिक तनाव रह सकता है। आपको अचानक किसी यात्रा पर जाना पड़ सकता है। सप्ताह के मध्य में शुभ कार्यों में मन लगेगा। सप्ताहांत के काफी अच्छा व्यतीत होने की संभावना है। आपका सामाजिक स्तर बढ़ेगा। मन में यदाकदा अकेलेपन की भावना आ सकती है। करियर के लिहाज से यह बेहतरीन सप्ताह हो सकता है। पदोन्नति की संभावना बन रही हैं। 

प्रेमफल: प्रेम संबंधों के लिए मिला-जुला सप्ताह रहेगा। इसकी शुरुआत अच्छी रहेगी। मध्य बेहतर और सप्ताहांत भी अच्छा रहने का संकेत दे रहा है। लव पार्टनर के साथ कहीं घूमने फिरने का मौका मिलेगा और आप दोनों के बीच रोमांस होगा। यदि आप विवाहित हैं तो कुछ सामंजस्य को लेकर अड़चने उत्पन्न हो सकती हैं। फिर भी दोनों के बीच प्यार बना रहेगा।

भाग्यस्टार: 3/5

उपाय: काले कुत्ते को रोटी खिलाएं। 


कुंभ


आपके लिए सप्ताह की शुरुआत अच्छी रहेगी। जीवन में आगे बढ़ने का मौका मिलेगा। करियर में आप अच्छे निर्णय लेंगे और कार्यक्षेत्र में जमकर मेहनत करेंगे। अचानक से धन लाभ के भी योग हैं। हालांकि खर्चों में भी बढ़ोतरी हो सकती है। आपकी संतान आनंदपूर्वक जीवन व्यतीत करेगी। विद्यार्थी उच्च शिक्षा के लिए अग्रसर होंगे और उसमें सफल भी होंगे। मन में कामुक विचार आएंगे लिहाज़ा इन पर नियंत्रण रखें। 

प्रेमफल: प्रेमियों के लिए यह मिला-जुला सप्ताह रहेगा। अपने पार्टनर के साथ आपको रोमांस करने का अवसर मिलेगा परंतु थोड़ी तकरार भी संभव है। जो विवाहित हैं उनके लिए समय संभल कर चलने का है, वैवाहिक जीवन में कुछ समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं परंतु आप अपनी सूझबूझ से उन्हें सुलझा पाने में सक्षम हो सकेंगे। 

भाग्यस्टार: 3/5 

उपाय: भगवान शिव की आराधना कर उन्हें श्वेत चंदन का लेप करें। 


मीन


आपके लिए सप्ताह की शुरुआत धीमी रहेगी। अपनी सेहत का ध्यान रखें। सप्ताह का मध्य कार्यक्षेत्र में तरक्की लेकर आ सकता है। सप्ताह का अंत आध्यात्मिक क्रियाकलापों को बढ़ाने वाला होगा। मन गूढ़ ज्ञान संबंधित बातों तथा अध्यात्म में रुचि लेगा। पारिवारिक जीवन सुखी रहने के संकेत दे रहा है। विद्यार्थियों को ध्यान एकाग्र करने में कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है हालांकि उनकी तेज बुद्धि उन्हें पढ़ाई में अग्रसर करेगी। 

प्रेमफल: प्रेम संबंधों के लिए सप्ताह मिला जुला रह सकता है। आप दोनों के बीच कुछ गलतफहमियां उत्पन्न हो सकती हैं जिन्हें दूर करना आवश्यक होगा। आपको अपने पार्टनर के साथ कुछ खुशी के पल बिताने का मौका मिलेगा। वैवाहिक जीवन में प्यार की बरसात होगी परंतु किसी ना किसी बात को लेकर झगड़ा भी हो सकता है इसलिए संभल कर चलें।

भाग्यस्टार: 3.5/5

उपाय: हनुमान जी की उपासना करें और उन्हें 4 केले अर्पित करें। 

Read More »

ज्योतिषी से पूछें ₹299 में + 20% कैशबैक अतिरिक्त!

ज्योतिषीय परामर्श मात्र ₹299 में और पाएँ 20% पेटीएम कैशबैक; साथ ही एस्ट्रो आवर डील्स पर भारी छूट, मुफ़्त पाँच मुखी रुद्राक्ष व बहुत कुछ...
Read More »