डॉक्टर या इंजीनियर बनने के योग

हम सब अपनी पसंद के कार्यक्षेत्र में जाना चाहते हैं, परन्तु बहुत बार हमारी यह इच्छा अधूरी रह जाती है। ज्योतिष एक ऐसा विषय है जिसके माध्यम से इस बात का अनुमान लगाया जा सकता है कि कौन सा क्षेत्र हमारे लिए सर्वश्रेष्ठ है। आइये इस विषय पर चर्चा करें श्री राम हरि शर्मा जी से.…


प्रत्येक युवक / युवती की यह अभिलाषा होती है कि वह जो भी कार्य करे वह उसकी रुचि के अनुसार हो, क्योंकि रुचि के अनुसार कार्य करने में सफलता शतप्रतिशत मिलती है परन्तु कभी ऐसा भी होता है कि अपनी रुचि वाला क्षेत्र चुन कर भी असफ़लता हाथ लगती है। ऐसा विशेष कर होता है, अतः यह जानना ज़रूरी हो जाता है कि कौन सा कार्य हमारे अनुकूल होगा जिससे सफलता मिले।

हर व्यक्ति में अलग-अलग क्षमता होती है लेकिन स्वयं यह तय करना कठिन होता है कि हममें क्या क्षमता है इसलिये कभी कभी गलत निर्णय लेने से असफलता हाथ लगती है, परन्तु ज्योतिष एक ऐसा विषय है जिसके द्वारा उचित व्यवसाय/क्षेत्र चुनने में मार्गदर्शन लिया जा सकता है।
आजकल हाईस्कूल करने के बाद एक दुविधा यह रहती है कि कौन से विषय चुने जाए जिससे डॉक्टर या इन्जीनियर का व्यवसाय चुनने मे सहायता मिल सके इसके लिये कुन्डली के ज्योतिषीय योग हमारी सहायता कर सकते हैं तो आइये इस पर चर्चा करें कि ज्योतिेष के द्वारा कैसे जाना जाय कि किस क्षेत्र मे सफलता मिलेगी।

जातक की जन्म पत्रिका में लग्न, लग्नेश, दशम भाव, दशमेश इन पर विभिन्न ग्रहों का प्रभाव, जातक को उचित व्यव्साय जैसे कि डॉक्टर या इन्जीनियर के क्षेत्र का चयन करने मे सहयता करता है। ग्रहों का विभिन्न राशियों में स्थित होना भी व्यव्साय का चयन करने में मदद करता है। यदि चर राशियों में अधिक ग्रह हों तो जातक को चतुराई, युक्ति निपुणता से सम्बधित व्यवसाय में सफलता मिलती है। वह ऐसा व्यव्साय करता है जिसमें निरंतर घूमना पड़ता हो। और यदि स्थिर राशि में ज्यादा ग्रह होते हैं तो एक स्थान वाला कार्य करता है जिसमे डॉक्टरी मुख्य है तथा द्विस्वभाव राशि में अधिक ग्रह हों तो जातक अध्यापन आदि कार्य करता है जिसमे एक स्थान पर भी तथा काम के सिलसिले मे आना जाना भी आवश्यक होता है।

अब मै कुन्डली में डॉक्टर बनने के योगों पर अलग अलग प्रकाश डालता हूँ:

डॉक्टर बनने के योग ज्योतिष रत्न के पाठ 24 के अनुसार:
  1. यदि सूर्य, मंगल,गुरु शनि एवं राहु कुन्डली में बली हों और इनका दशम , एकादश, द्वितीय व सप्तम भाव से सम्बध हो तो जातक डॉक्टर बनता है।
  2. दशम भाव में सूर्य-मंगल की युति जातक को शल्य चिकित्सक बनाती है।
  3. चतुर्थेश दसमस्थ हो तो जातक औषधि चिकित्सक होता है।
  4. डॉक्टर बनने के योगों में सूर्य मुख्य भूमिका निभाता है अतः सूर्य का सम्बध उपर्युक्त भावों से तथा ग्रहों से डॉक्टर बनने मे मदद करता है।
  5. पंचम तथा षष्ट भाव का परस्पर सम्बध भी जातक को रोग दूर करने की बुद्धि प्रदान करता है।
  6. दशम भाव या दसमेश से मंगल या केतु का दृष्टि या युति राशि गत सम्बध हो तो जातक शल्य चिकित्सक होता है।
  7. दशम भाव में शनि तथा सूर्य की युति जातक को दंत चिकित्सक बनाती है।
आइये अब एक उदाहरण देकर समझते हैं:

निम्न कुंडली एक जातिका की है जोकि भारतीय वायुसेना मे एक सफल डॉक्टर के रूप में कार्यरत है। इनका जन्म 2-7-1963 को 8 बज कर 05 मिनट पर मुंबई में हुआ था। इनकी जन्म कुंडली और नवांश कुंडली नीचे दे रहे हैं ।

 Know your profession possibilities with the help of astrology

कुंडली मे सूर्य, राहु और गुरु बलवान हैं। और इनका संबंध क्रमशः द्वितीय दशम एवं एकादश से है जो की उपर्युक्त योगों मे योग नंबर 1 पर दिया है। ऊपर योग संख्या 5 के अनुसार मंगल पंचमेश होकर गुरु पर दृष्टि डाल रहा है। इस प्रकार पंचम और षष्ट का संबंध हो जाता है जो की जातिका को रोगनिदान करने की उत्तम बुद्धि प्रदान करता है। वास्तव में यह जातिका बहुत ही अच्छा रोग निदान करती है उपर्युक्त नवांश कुंडली में भी चिकित्सक के योग स्पष्ट हैं। अतः हम इस प्रकार किसी की भी कुंडली का आध्ययन करके हम इस निष्कर्ष पर पहुँच सकते हैं कि जातक डाक्टर बन कर सफल हो सकता है या नहीं।

राम हरि शर्मा





Related Articles:

9 comments:

  1. i want to know abt myself which profession is suited for me bcz m an engineer bt does it will b helpful to make career or i will do busines.defind me the field also

    thnx

    ReplyDelete
    Replies
    1. with out your birth details how one can predict?

      Delete
  2. Dear sit I want to also know about my profession but I haven't ur contact no. So, please reply on 9824845160 9409436036

    ReplyDelete
  3. Dear sir can u tell me about my career....

    ReplyDelete
  4. Dear sir
    I am a doctor I have done MBBS in 2000& completed internship in 2001 and I want to go for post graduation my D/T/P 13:09:1974/18.10hrs/Vishakhapatnam plz reply on 09329830884

    ReplyDelete
  5. Namskaar bhai ....
    Gud mrng ...
    me pehle apka dhanyawaad karna chahunga jo apne itne importand nd vishleshan purn topic pe charcha karwayi ....

    Bhai meri apse request he ki aap aage chalke political career ke yogo pe charcha kare ...

    dhanyawaad

    ReplyDelete
  6. Good morning
    My dob 05/02/80 time 7:20am place kalol
    I have big problem. My carrier is unstable so what should I do? Give me some idea
    Plz

    ReplyDelete
  7. Very innovative sir my Dob 12-August-1982 20:20 at mathura up I am business men please tell me what career suits me my email -nmnm4851@Gmail.com please reply I m eager to listen u

    ReplyDelete
  8. dear sir,
    gauri shankar rai ,d.o.b-16-08-1989,time-04:56am,place-allahabad
    (u.p) dear sir give me a detail of my job and my career and financial term my email-gaurisrai@gmail.com.

    ReplyDelete